पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Aurangabad
  • Security Service Of Private School Will Continue, SP Said, I Am In Charge, The Trustees Of The School Said This Facility Was Provided On Demand Of Public

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

औरंगाबाद:निजी स्कूल की सुरक्षा सेवा रहेगी जारी, एसपी बोले-मैं प्रभार में, स्कूल के ट्रस्टी बोले-जनता की मांग पर मिली ये सुविधा

औरंगाबाद10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • ग्रामीणों ने कहा था यहां रोड में रहता है सन्नाटा, इसलिए अधिकारियों ने दी सुविधा
  • रफीगंज विधायक बोले-ये हैरान करने वाला मामला, लेकिन अगर यह जनता मांग पर हुई है तो ये है अच्छी बात

बारूण प्रखंड के एसएस स्वामी स्कूल में पांच-एक की सुरक्षा सुविधा फिलहाल जारी रहेगी। क्योंकि यह सुरक्षा जनहित के लिए मुहैया करायी गई है। यह पढ़कर अगर आप हैरान हो रहे हैं तो मत होईए। बिल्कुल आप सही पढ़ रहे हैं। खबर छपने के बाद स्कूल के ट्रष्टी एसएस स्वामी ने कहा कि ये स्कूल की सुरक्षा नहीं है। जनता की मांग पर यह सुविधा उपलब्ध की गई है।

इधर वर्तमान प्रभारी एसपी पंकज कुमार ने कहा कि मेरे आने के पहले एसपी साहब ने प्रतिनियुक्ति की है। मैं तो प्रभार में हूं। मैं इसमें कुछ नहीं कर सकता। जनता के मांग पर ही कुछ हुआ होगा। बिना आवश्यक सुरक्षा सुविधा नहीं दी जाती। खबर छपने के बाद कम से कम इतना तो साफ हो गया कि पुलिस और स्कूल प्रबंधन दोनों को जानकारी हो गई। दोनों ने इस संबंध में जानकारी साझा किए। जिससे जनता की दुविधा थोड़ी कम हो गई। 
स्कूल ट्रस्टी बोले-आसपास की जनता ने की थी मांग, इसीलिए दी गई यह सुविधा
दैनिक भास्कर ने इस मुद्दे को मंगलवार के अंक में खबर प्रकाशित की। प्राइवेट स्कूल में तैनात कर दिए दाराेगा आैर पांच जवान, सुरक्षा किसने दी यह एसपी भी नहीं जानते, शीर्षक से प्रमुखता से यह खबर छपी। इस खबर में स्कूल प्रिंसिपल, बारूण के प्रभारी थानाध्यक्ष, जिले के प्रभारी एसपी, प्राइवेट स्कूल में तैनात दारोगा से बात की गई थी। किसी ने यह स्पष्ट नहीं किया था कि वहां किस आधार पर किसने और क्यों इस सुरक्षा को मुहैया कराया है? खबर प्रकाशित होने के बाद पुलिस महकमे में हलचल मच गई।

स्कूल ट्रष्टी व डायरेक्टर एसएस स्वामी ने दैनिक भास्कर को फोन कर बताया कि स्कूल में पिछले साल एक कार्यक्रम हुआ था। उसमें जिले व प्रदेश के आला अधिकारी आए थे। इसी में लोगों द्वारा मांग की गई थी कि इस रोड में सन्नाटा रहता है। लिहाजा एक पुलिस चौकी दी जाए। जिसके बाद अधिकारियों ने भरोसा दिलाया था कि आप आवेदन करें। फिर ग्रामीणों ने आवेदन दिया। जिसके बाद यह सुविधा दी गई। अभी कोई पुलिस को ठहरने के लिए जगह नहीं है। इसीलिए उन्हाेंने स्कूल काे उपलब्ध करा दी, लेकिन एक दिन पहले तक स्कूल प्रबंधन इस संबंध में अनजान थे। यह हैरत करने वाला है। 
जनता की मांग या रसूख का कमाल ये तो वक्त बताएगा
स्कूल में यह सुरक्षा की सुविधा जनता की मांग पर है, या रसूख का कमाल है। यह तो वक्त बताएगा। जनता की मांग पर अगर पांच-एक की सुरक्षा परमानेंट दी गई है तो आसपास में पुलिस चौकी जरूर बनेगी। क्योंकि स्कूल ट्रष्टी ने जनता की मांग पर यह सुविधा दी जाने की बात कही है। फिलहाल पुलिस महकमा ने भी इसी ओर ईशारा किया है, अगर पुलिस चौकी नहीं बनी तो माना जाएगा कि यह मांग पर नहीं, रसूख के कमाल पर सुविधा दी गई थी। अगर ट्रष्टी के बात में दम है तो पुलिस विभाग वहां चौकी स्थापित करेगी। ये आने वाला वक्त ही बताएगा कि सच क्या है?

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - कुछ समय से चल रही किसी दुविधा और बेचैनी से आज राहत मिलेगी। आध्यात्मिक और धार्मिक गतिविधियों में कुछ समय व्यतीत करना आपको पॉजिटिव बनाएगा। कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती है इसीलिए किसी भी फोन क...

    और पढ़ें