सीबीएसई बोर्ड:सीबीएसई 12वीं बोर्ड की ऑफलाइन परीक्षा के रिजल्ट की कॉपी देखने के साथ पुनर्मूल्यांकन भी करा सकेंगे छात्र

औरंगाबाद15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
चार अक्टूबर से ही शुरू हो चुकी है ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया, 500 रुपए प्रति कॉपी चार्ज। - Dainik Bhaskar
चार अक्टूबर से ही शुरू हो चुकी है ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया, 500 रुपए प्रति कॉपी चार्ज।

सीबीएसई 12वीं बोर्ड की ऑफलाइन परीक्षा के रिजल्ट की कॉपी देखने के साथ पुनर्मूल्यांकन भी छात्र करा सकेंगे। बोर्ड ने इसको लेकर गाइडलाइन जारी की है। ऑफलाइन परीक्षा में शामिल बड़ी संख्या में कई विषय में फेल हुए परीक्षार्थी लगातार री-चेकिंग की मांग कर रहे थे।

छात्रों की शिकायत है कि स्कूल से मिले रिजल्ट में उन्हें 70 से 80 फीसदी अंक आया, लेकिन ऑफलाइन परीक्षा में वे फेल हो गए। बोर्ड के निर्देश के अनुसार चार अक्टूबर से ही इसके लिए ऑनलाइन आवेदन शुरू हो गई है। इसमें री चेकिंग, कॉपी लेने समेत अलग-अलग प्रक्रिया के लिए अलग-अलग भुगतान करना होगा।

यह भुगतान ऑनलाइन आवेदन शुल्क से अलग होगा। अंकों के सत्यापन को प्रति विषय छात्रों को 500 रुपये देने होंगे। वहीं, पुनर्मूल्यांकन में हर सवाल पर शुल्क लगेगा। सीबीएसई ने कक्षा 12वीं की ऑफलाइन यह विशेष परीक्षा का रिजल्ट 30 सितंबर को घोषित कर दिया था। यह परीक्षा 25 अगस्त से 15 सितंबर तक आयोजित की गई थी।

सीबीएसई की ओर से जारी शिड्यूल के अनुसार, छात्रों को अंकों के सत्यापन के लिए आवेदन शुल्क का भुगतान करना होगा। सत्यापन की प्रक्रिया के लिए प्रति विषय 500 रुपये का भुगतान करना होगा। इसके अलावा उत्तर पुस्तिका की फोटो कॉपी प्राप्त करने के लिए प्रत्येक उत्तर पुस्तिका के लिए 700 रुपये देने होंगे। आवेदन शुल्क ऑफलाइन स्वीकार नहीं किया जाएगा। शुल्क का भुगतान नेट बैंकिंग या क्रेडिट या डेबिट कार्ड के माध्यम से ऑनलाइन करना होगा।

उत्तर पुस्तिका की एक फोटोकॉपी प्राप्त करने की अनुमति होगी
पुनर्मूल्यांकन के लिए आवेदन करने को छात्रों को प्रति प्रश्न 100 रुपये का भुगतान करना होगा। सीबीएसई स्कूल संगठन के एक पदाधिकारी ने बताया कि आवेदन शुल्क वापसी नहीं किया जाएगा। सीबीएसई की ओर से जारी नोटिस के अनुसार केवल वे छात्र जो सत्यापन के लिए ऑनलाइन आवेदन करेंगे, उन्हें संबंधित विषय या विषयों में उत्तर पुस्तिका की एक फोटोकॉपी प्राप्त करने की अनुमति होगी। पुनर्मूल्यांकन का अंतिम परिणाम घोषित किया जाएगा। इस पुनर्मूल्यांकन के खिलाफ बोर्ड की ओर से किसी अपील पर विचार नहीं किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...