पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

झाड़-फूंक के चक्कर में सर्पदंश से किशोरी की मौत:सांप काटने के बाद परिजन ले गए तांत्रिक के पास, हालत बिगड़ी तो तांत्रिक ने अस्पताल जाने को कहा, तब तक किशोरी ने तोड़ दिया दम

औरंगाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल में किशोरी की डेड बॉडी। - Dainik Bhaskar
अस्पताल में किशोरी की डेड बॉडी।

सांप काटने के बाद अस्पताल की जगह झाड़-फूंक के चक्कर में पड़ने से एक 14 वर्षीया किशोरी की मौत हो गई। घटना टंडवा थाना क्षेत्र के भुईया बसडीहा गांव की है। मृतका किशोरी की पहचान टंडवा थाना क्षेत्र के भुईया बसडीहा गांव निवासी स्व लखन चौधरी की 14 वर्षीय पुत्री अंचला कुमारी के रूप में की गई है।

मृतका की मां भगवंती देवी ने रोते-बिलखते बताया कि शाम 5 बजे खाना बनाने के लिए घर में रखे गोइठा निकालने गई थी तभी उसी में छिपे सांप ने उसे काट लिया। आननफानन में गांव के कुछ ग्रामीण के साथ नवीनगर के बक्स बाबा मंदिर के तांत्रिक राजा बाबा के पास लेकर गई ,जहां तांत्रिक ने किशोरी अंचला कुमारी पर कूछ मंत्र पढा़ उसके बाद दो अंजली पानी पिलाया और करीब 1 घंटे तक झाड़-फूंक किया। जब किशोरी बेहोश होने लगी तब बाबा ने परिजनों को कहा की उसे अस्पताल ले जाएं।

तांत्रिक राजा बाबा के कहने के बाद परिजनों ने किशोरी को औरंगाबाद सदर अस्पताल इलाज़ के लिए लाया, जहां डॉक्टरों ने किशोरी को मृत घोषित कर दिया। हालांकि उसके बाद भी डॉक्टरों के कहने पर परिजनो को विश्वास नहीं हुआ और किशोरी के शव को लेकर अस्पताल से निकल गए।

खबरें और भी हैं...