पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कार्यक्रम:‘दुनिया तेरे रंग अनेक’ पुस्तक का किया गया लोकार्पण

औरंगाबाद नगर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुस्तक के लोकार्पण के दौरान मौजूद अतिथि
  • कहा - साहित्य केवल समाज का दर्पण ही नहीं है, बल्कि समाज का निर्देशन भी करता है

साहित्यकार डॉ सुरेंद्र प्रसाद मिश्र की प्रकाशित पुस्तक ‘दुनिया तेरे रंग अनेक का लोकार्पण रविवार को स्थानीय आईएमए हॉल में एक भव्य कार्यक्रम आयोजित कर किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ रामाशीष सिंह व संचालन प्रेमेंद्र मिश्र ने किया। मुख्यअतिथि बिहार हिंदी साहित्य सम्मेलन पटना के अध्यक्ष डॉ अनिल सुलभ ने कहा कि साहित्य केवल समाज का दर्पण ही नहीं है बल्कि यह समाज का निर्देशन भी करता है । साहित्य बदलाव का पक्षधर है। उन्होंने औरंगाबाद की समृद्धि साहित्य परंपरा की प्रशंसा की । डॉ सच्चिदानंद प्रेमी ने कहा कि पुस्तक का लोकार्पण करना साहित्य सर्जना के क्षेत्र में सराहनीय कार्यक्रम है। इलाहाबाद विश्वविद्यालय के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ कुमार वीरेंद्र ने कहा कि यह पुस्तक एक संस्मरण है जो कथाशैली में लिखा हुआ है । यह ललित निबंधों की एक ऐसी पुस्तक है जो सुखद स्मृतियों की याद दिलाता है। डॉ सिद्धेश्वर प्रसाद सिंह ने कहा कि इस पुस्तक का नाम दुनिया तेरे रंग अनेक बहुत सटीक है ।इसमें समाज के साथ-साथ मानव के विविध स्वरूपों और रंगों का सुंदरता से चित्रण किया गया है । कार्यक्रम को राजभाषा अधिकारी राजमणि मिश्र, इलाहाबाद विश्वविद्यालय के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉक्टर चितरंजन कुमार ,राज कुमार प्रेमी, नबीनगर बी डी ओ ओम सिंह राजपूत ने भी संबोधित किया । आगत अतिथियों को पुष्पमाला और अंग वस्त्र देकर सम्मानित किया गया। स्वागत भाषण चंद्रशेखर प्रसाद साहू ने किया। सभी वक्ताओं ने इस पुस्तक को साहित्य समृद्धि के क्षेत्र में एक चर्चित पुस्तक बताया ।उन्होंने कहा कि यह पुस्तक लोकभाषाओं , लोक प्रचलित मुहावरों के साथ-साथ ग्रामीण और शहरी परिवेश से जुड़े हुए मिश्रित अनुभूतियों पर प्रकाश डालता है ।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले रुके हुए और अटके हुए काम पूरा करने का उत्तम समय है। चतुराई और विवेक से काम लेना स्थितियों को आपके पक्ष में करेगा। साथ ही संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी चिंता का भी निवारण होगा...

और पढ़ें