सख्ती / शादियों के लिए 25 से ज्यादा नहीं होंगे बाराती, अनुमंडल कार्यालय में करना होगा आवेदन

There will be no more than 25 processions for weddings, application will have to be made in the subdivision office
X
There will be no more than 25 processions for weddings, application will have to be made in the subdivision office

  • शर्तों के साथ दी जाएगी अनुमति, सोशल डिस्टेंस अनिवार्य

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

औरंगाबाद. (हरेन्द्र कुमार) अब अपने मनमर्जी से न शादी होगी न ढोल नगाड़े बजेंगे। न दोस्तों के काफिला नागीन डांस कर पाएगा और न ही दूल्हे के साथ सैकड़ों गाड़ियां का काफिला शामिल होगा। यह पढ़कर आपको अटपटा लग रहा होगा। लेकिन यह हकीकत है। कोरोना के बढ़ते केस को देखते हुए सरकार ने यह गाइडलाइन जारी किया है। अब शर्तों के साथ शादी की अनुमति दी जाएगी। 25 से ज्यादा बाराती शादी में शामिल नहीं हो पाएंगे। इस 25 लोगों की संख्या में दूल्हा-दुल्हन दोनों तरफ के लोग होंगे। यानी एक तरफ से 12 व दूसरे तरफ से 13 लोग शामिल होंगे।

ऐसे में दूल्हा के दोस्तों के लिए जगह नहीं बच जाता है। अगर दूल्हा के दोस्त जगह लिए तो परिवार को शादी से बाहर होना पड़ेगा। लिहाजा ऐसा कोई भी परिवार या कोई भी दूल्हा उचित नहीं समझेगा। यह कोरोनाकाल है। सबकुछ उलट-पलट गया है। सदर एसडीओ डॉ. प्रदीप कुमार ने बताया कि शादी के लिए दूल्हा-दुल्हन के परिजनों को आवेदन करना होगा। उसके बाद शर्तों के साथ उन्हें शादी की अनुमति दी जाएगी। 
एसडीओ आवेदन की जांच करेंगे, फिर मिलेगी अनुमति
अगर किसी परिवार को शादी करना है तो आपको अपने अनुमंडल के एसडीएम कार्यालय में इसके लिए आवेदन करना होगा। आवेदन के बाद संबंधित एसडीओ आवेदन की जांच करेंगे और फिर शर्तों के साथ शादी की अनुमति देंगे। शर्त में दूल्हा-दुल्हन के परिवार को प्रशासन के पास एक शपथ पत्र भरना होगा। जिसमें वे कहेंगे कि हम प्रशासन के सभी शर्तों को मानेंगे। 25 से ज्यादा बाराती इस शादी समारोह में भाग नहीं लेंगे। सोशल डिस्टेंस का शादी समारोह में पूरा पालन किया जाएगा। बारात में शामिल लोग मास्क लगाएंगे।
एक-एक कर दोस्तों को पार्टी देंगे दूल्हा-दुल्हन 
नाम न छापने के शर्त पर रफीगंज प्रखंड खड़वां बिगहा निवासी एक दूल्हा ने बताया कि शादी नियमों के तहत ही करेंगे। लेकिन अपने दोस्तों को नाराज नहीं कर सकते। लिहाजा उन्हें बारी-बारी सोशल डिस्टेंस का पूरा पालन करते हुए लॉकडाउन के बाद पार्टी देंगे। वहीं औरंगाबाद शहर के रहने वाली एक दुल्हन ने बतायी कि शादी में 25 लोग क्या दोनों तरफ से मुश्किल से 10 लाेग शामिल होंगे। क्योंकि समय की यही मांग है। जब समय सामान्य होगा, कोरोना का कोई भय नहीं होगा, उसकी विदाई हाे जाएगी। इसके बाद सभी रिश्तेदारों व दोस्तों को बुलाकर ग्रांड पार्टी देंगे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना