पंचायत चुनाव:देव-कुटुंबा की 35 पंचायतों में वोटिंग आज, 2.58 लाख मतदाता डालेंगे वोट

औरंगाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मतदान सामग्री लेकर बूथ के लिए    रवाना होते मतदान कर्मी। - Dainik Bhaskar
मतदान सामग्री लेकर बूथ के लिए रवाना होते मतदान कर्मी।

आज यानी बुधवार को अति नक्सल प्रभावित देव व कुटुंबा प्रखंड के 35 पंचायतों में सुबह सात बजे से दोपहर 3 बजे तक वोटिंग होगी। कुल 479बूथ बनाए गए हैं। जहां 1080 पदों के लिए पदों के लिए कुल 2.58 लाख मतदाता वोट डालेंगे। सुबह सात बजे से वोटिंग शुरू होगी। जो दोपहर 3 बजे तक चलेगा। सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतेजाम किए गए हैं। देव में 61 दंडाधिकारी, 119पेट्रोलिंग पार्टी, 8 जाेनल व 4 सुपर जोनल बनाया गया है। जबकि कुटुंबा में 82 दंडाधिकारी, 173पेट्रोलिंग पार्टी, 10 जाेनल व 5 सुपर जोनल बनाया गया है।

हर पंचायत में एक दंडाधिकारी तैनात रहेंगे
वहीं धावा दल भी तैनात किया गया है। इसलिए आप निष्पक्ष व निर्भीक होकर मतदान करें। चार पदों के मुखिया, जिला परिषद, पंचायत समिति व वार्ड सदस्य के लिए इवीएम से वोटिंग होगी। जबकि पंच और सरपंच का मतदान बैलेट पेपर के जरिए होगा। सुबह 5:30 में मॉक पोल होगा। फिर 7:00 बजे से वोटिंग। मतदान केंद्र के 200 मीटर के अंदर में कोई भी प्रत्याशी द्वारा कैंप नहीं लगाया जाएगा।

वोट करने के लिए ये हैं वैकल्पिक दस्तावेज
वोटर आईडी कार्ड, आधार कार्ड, पैन कार्ड, राशन कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, शस्त्र लाइसेंस, फोटो युक्त बैंक पासबुक, सरकारी संस्थान द्वारा निर्गत परिचय पत्र, कॉलेज से निर्गत फोटो युक्त परिचय पत्र।

डीएम बोले- जो जिम्मेवारी मिली है उसे इमानदारी से निभाईये
जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिला पदाधिकारी सौरभ जोरवाल, पुलिस अधीक्षक कांतेश कुमार मिश्र, उप निर्वाचन पदाधिकारी जावेद एकबाल ने सामग्री कोषांग का निरीक्षण किया। दसवां चरण के मतदान के लिए गेट स्कूल के प्रांगण में सभी 265 पीसीसीपी दल एवं पुलिस पदाधिकारियों की संयुक्त ब्रीफिंग की गई। संयुक्त ब्रीफिंग के पश्चात देव प्रखंड के सभी 108 पैट्रोलिंग मजिस्ट्रेट के दल द्वारा किशोरी सिन्हा महिला महाविद्यालय में स्थापित ईवीएम डिस्पैच सेंटर व कुटुंबा प्रखंड के सभी 157 पेट्रोलिंग मजिस्ट्रेट के दल द्वारा सच्चिदानंद सिन्हा महाविद्यालय में स्थापित ईवीएम डिस्पैच सेंटर से ईवीएम मशीन और अन्य मतदान सामग्री को प्राप्त किया गया। इसके पूर्व नगर भवन औरंगाबाद में सदर अनुमंडल पदाधिकारी व उप निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा दोनो प्रखंडों के सभी 144 मूल एवं अतिरिक्त सेक्टर पदाधिकारियों का फाइनल ब्रीफिंग कर कलस्टर सेंटर पर रवाना किया गया।

चुनाव के पदाधिकारियों और कर्मियों को दी गई जानकारी
जिला पदाधिकारी ने उपस्थित पदाधिकारियों तथा कर्मियों को बताया कि थैले में निर्वाचन आयोग के अनुसार दिए जाने सारी सामग्री सही सही मात्रा में होना चाहिए क्योंकि यदि कोई सामग्री छूट जायेगी तो मतदान केंद्र पर कर्मियों को परेशानी होगी। उन्होंने कहा कि अंत भला तो सब भला आपको जो जिम्मेवारी मिली है।
उसे पुरी इमानदारी से निभाईये। बाकि सभी चरणों को हम सभी मिलकर अच्छे संपन्न करा चुके हैं। सभी प्रकार के प्रपत्र, पीठासीन पदाधिकारी की हस्तपुस्तिका,अमिट स्याही, निर्वाचक नामावली की चिन्हित एवं सामान्य प्रति, स्टांप पैड, प्रभेदक चिन्ह का मुहर , एरो क्रॉस वोटिंग स्टिक, मेटल सील, लिफाफे, कार्बन, लाह, मोमबत्ती, माचीस, ब्लेड, धागा, गोंद, तकलीक, प्लास्टिक, आवश्यक पोस्टर आदि चेक किया गया।

हंगामा करने पर होंगे गिरफ्तार
पंचायत चुनाव के प्रत्याशी अपना-अपना पोलिंग एजेंट बना सकते हैं। इसके लिए निर्वाचन के नियमों का पालन करना होगा, लेकिन हंगामा या झगड़ा करने पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। क्योंकि बूथों पर गड़बड़ी रोकने के लिए इवीएम के साथ-साथ बायोमैट्रिक्स भी लगाया गया है।

खबरें और भी हैं...