घरों में जले दीप:लक्ष्मी-गणेश का पूजन कर मांगी सुख, समृद्धि व शांति

औरंगाबाद नगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गुरूवार को दीपावली का पर्व श्रद्धा और उल्लास के साथ मनाया गया। कार्तिक मास की अमावस्या पर जिला रंग बिरंगी रोशनी व दीपों के प्रकाश से सराबोर रहा। शाम होते ही घरों व व्यापारिक प्रतिष्ठानों में शुभ मुहूर्त में मां लक्ष्मी, गणेश जी व मां सरस्वती की विधि विधान से पूजा हुई। माता लक्ष्मी की पूजा कर लोगों ने सुख , समृद्धि व शंाति की कामना की। इसके बाद लोगों ने देर रात तक जमकर आतिशबाजी की और त्योहार का पूरा आनंद लिया।

प्रकाश का पर्व दीपावली को लेकर सुबह से ही घरों एवं व्यापारिक प्रतिष्ठानों में तैयारियां शुरू हो गई थी। दिन भर की साफ-सफाई के बाद शाम ढलते ही घरों व प्रतिष्ठानों में समृद्धि की देवी मां लक्ष्मी व शुभ के देवता भगवान गणेश का पूरे विधि विधान के साथ आवाहन किया गया। इसके बाद दीपों को सजाने का सिलसिला शुरू हुआ , जो देर शाम तक चलता रहा। आंगन और मुख्य द्वार पर महिलाओं व बालिकाओं ने आकर्षक रंगोलियां बनाईं। घरों की छतों के मुंडेर के साथ स्वागत द्वारों पर दीपों की सुंदर कतार और टिमटिमाती रंग-बिरंगी लाइटों ने जहां रोशनी बिखेरी। वहीं आतिशबाजी की रंगीन चकाचौंध से शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र तक गुलजार रहे। देर रात तक उत्सव व उमंग का माहौल छाया रहा। लोगों ने एक दूसरे को मुंह मीठा कराते हुए दिवाली की शुभकामनाएं दी।

आकर्षक तरीके से सजाया गया था व्यवसायिक प्रतिष्ठान को
शहर के व्यवसायिक प्रतिष्ठानों को भी आकर्षक ढंग से सजाया गया था। पूजा-अर्चना कर व्यवसाइयों ने कामना की कि वर्ष भर उनके यहां ग्राहकों की रुझान उनकी ओर बना रहे। उपहार देकर बधाई देने का क्रम भी देर रात तक चलता रहा। विभिन्न मुहूर्त के अनुसार लक्ष्मी पूजन किया गया। ज्यादातर व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में सिंह लग्न में माता लक्ष्मी की अराधना करते हुए सुख, शांति व समृद्धि की कामना की गई। इसके साथ मंदिरों में भी पूजन अर्चना करने को लेकर देर शाम तक भीड़ लगी रही।

मंदिरों में भी दीप जलाने को लेकर उमड़ी श्रद्धालुआें की भीड़
दाउदनगर में भी लक्ष्मी पूजन को लेकर उत्सव सा माहौल देखने को मिला। श्रद्धालुओं की भीड़ मंदिरों में उमड़ी रही। काफी संख्या में महिला श्रद्धालु हनुमान मंदिर समेत अन्य मंदिरों में पहुंचकर पूजा अर्चना करते दिखे। महिला श्रद्धालुओं द्वारा दीपक जलाकर पूजा-अर्चना की गई। पूरे रात तक शहर नीली रोशनी से जगमग दिख रहा था। ओबरा में भी पर्व को लेकर लोग उत्साहित दिखे। देवी मंदिर में दीप जलाने व माता लक्ष्मी की अराधना करने को लेकर भीड़ लगी रही। कई जगहों पर माता लक्ष्मी की प्रतिमा स्थापित कर पूजा अर्चना किया गया।

माता लक्ष्मी व भगवान गणेश की प्रतिमा हुई पूजा-अर्चना
जिले के सदर, रफीगंज,नवीनगर, कुटुम्बा, देव, बारूण, मदनपुर, हसपुरा , गोह, सहित अन्य प्रखंडों में लक्ष्मी पूजन को लेकर उत्साह बना रहा। घरों के साथ- साथ व्यवसायिक प्रतिष्ठानों को सजाया गया था। कई जगहांे पर मां लक्ष्मी की प्रतिमा स्थापित कर पूजा अर्चना की गई।

खबरें और भी हैं...