पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

निरीक्षण:बछवाड़ा से हाजीपुर राष्टीय राजमार्ग का रास्ता साफ, कार्यस्थल निरीक्षण के बाद मापदंड तैयार

बछवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बछवाड़ा के मुरलीटोल चौक एनएच 28 से मोहिउद्दीनगर होते हुए हाजीपुर तक बने एक लेन राष्ट्रीय राजमार्ग में होगा तब्दील

बछवाड़ा के मुरलीटोल चौक एनएच 28 से मोहिउद्दीनगर, महनार होते हुए हाजीपुर तक बने एक लेन की सड़क को राष्ट्रीय राजमार्ग में तब्दील किए जाने का रास्ता साफ हो गया है। बताते चलें कि कार्यपालक अभियंता, एनएच डिविजन बिहारशरीफ द्वारा जारी पत्र के अनुसार कार्यपालक अभियंता नें कार्यस्थल निरीक्षण कर मापदंड तैयार कर लिया गया है। साथ ही उक्त प्रस्तावना को अनुमोदन हेतू अधिक्षण अभियंता, एनएच सर्कल पटना को भेजा गया। जहां से कार्यादेश अनुमोदन के बाद कार्यकारी एजेंसी की नियुक्ति कर लिया जाएगा। एजेंसी की नियुक्ति के पश्चात ही स्थल पर कार्यारंभ कर दिया जाएगा। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के इस खबर से क्षेत्र के लोगों में हर्ष का माहौल व्याप्त हो गया है।

बछवाड़ा से हाजीपुर की यात्रा करने में 18 किलाेमीटर की हाेगी बचत
उक्त संदर्भ में सांसद प्रतिनिधि प्रभाकर कुमार राय ने विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि एनएच-122बी का फाइनल डीपीआर बनकर विभाग में जमा किया जा चुका है। बछवाड़ा से हाजीपुर एनएच निर्माण कार्य हो जाने से बछवाड़ा से हाजीपुर का सफर 73 किलोमीटर का हो जाएगा। जबकि अबतक बिहार की राजधानी पटना जाने वाले यात्रियों के लिए बछवाड़ा से वाया मुसरीघरारी, जनदाहा के रास्ते हाजीपुर तक का सफर के लिए 85

किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ती है। वहीं बछवाड़ा से वाया ताजपुर, महुआ के रास्ते हाजीपुर तक का सफर करने के लिए 91 किमी दूरी तय करनी पड़ती है। जबकि प्रस्तावित उक्त सड़क को राष्ट्रीय राजमार्ग में तब्दील करने से यात्रियों को 18 किलोमीटर कम दूरी तय कर सीधे बिहार की राजधानी पटना तक की यात्रा सम्भव हो सकेगी।

अक्टूबर से निर्माण कार्य प्रारंभ हाेने की संभावना
बछवाड़ा ही नहीं वरन् बेगूसराय और समस्तीपुर जिले के लोगों को पटना पहुंचने में काफी सहूलियत होगी। बाढ़ प्रभावित क्षेत्र को देखते हुए हाजीपुर-बछवाड़ा पथ जहां महनार से सिंगल लेन है। जिसमें महनार से बछवाड़ा तक लगभग 42 किलोमीटर हार्ड सीमेन्ट कंक्रीट से सड़क निर्माण किए जाने का खाका तैयार किया गया है। इस कार्य का मापदंड लगभग 400 करोड़ रुपए का बनाया गया है। बहुत जल्द ही कार्यकारी एजेंसी की नियुक्ति

होगी और इस वर्ष के अक्टूबर-नवम्बर माह से निर्माण कार्य प्रारंभ होने की संभावना सांसद प्रतिनिधि ने व्यक्त की है। सांसद प्रतिनिधि ने प्रसन्नता जाहिर करते हुए कहा कि बेगूसराय के सांसद सह केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह और सांसद सह केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय के प्रयास से ये संभव हो सका है। स्थानीय राजनीति कार्यकर्ताओं नें दोनों मंत्रियों को बधाई दी है।

खबरें और भी हैं...