अंडा बिक्रेता को गोली मारने का आरोप झूठा:झूठा आरोप लगाने वाला शिकायतकर्ता आर्म्स एक्ट में गया जेल, दो एफआईआर

बड़हरा20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • थानाध्यक्ष जयंत प्रकाश ने जब जांच की तो मामले में आ गया यूटर्न

पुलिस ने बबुरा निवासी श्रीनिवास साह के पुत्र अरविंद कुमार पर एफआईआर दर्ज कर आर्म्स एक्ट में जेल भेज दिया। यह एफआईआर बड़हरा थानाध्यक्ष जयंत प्रकाश ने की है। बताया जाता है कि गुरुवार को शाम में बबुरा काली मंदिर के समीप अंडा खा रहे इंग्लिशपुर गांव निवासी श्रीराम सिंह के पुत्र शिवजी सिंह को नामजद आरोपियों ने रस्सी से बांधकर पीटा था। फिर गोली मारने का आरोप लगाकर मॉब लिंचिंग की साजिश रचा। इस साजिश में बबुरा निवासी अरविंद कुमार ने एक देशी कट्टा, बैरल के चेंबर में कसा हुआ खोखा पुलिस को देकर कहा था कि इंग्लिशपुर के शिवजी सिंह ने अंडा बिक्रेता मनीष कुमार के पैर में गोली मारी है।

इस बीच थानाध्यक्ष जयंत प्रकाश ने जांच की, इसके बाद घटना यू-टर्न ले ली। पीएचसी के डॉक्टर के जांच व बबुरा निवासी मनीष के भाई अमुल कुमार, घायल मनीष कुमार से पुछताछ में खुलासा हुआ कि अंडा बिक्रेता को गोली नहीं मारी गई है। मनीष को ईंट से तलवा के उपरी भाग छील गया है। शिवजी से किसी तरह का विवाद नहीं हुआ है। बबुरा निवासी अरविंद कुमार ने झूठा आरोप लगाकर देशी कट्टा प्रस्तुत किया गया। इसके बाद पुलिस ने अरविंद कुमार को अवैध हथियार रखने के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

जख्मी शिवजी ने दिया आवेदन
भीड़ से किसी तरह बचे इंग्लिशपुर गांव निवासी शिवजी सिंह ने इलाज के बाद शुक्रवार को थाना में आवेदन दिया है। उसके अनुसार गुरुवार को अरविंद कुमार समेत 20-25 अज्ञात आदमी ने पीटा। मेरे पॉकेट से 11 हजार रुपये, पीएनबी का एटीएम कार्ड निकाल लिया।अवैध हथियार हमारे पॉकेट में रखने का प्रयास किया। पुलिस जख्मी हालत में इलाज कराने पीएचसी बड़हरा ले गयी।

खबरें और भी हैं...