महिला ने न्याय की लगाई गुहार:पुत्र की प्राप्ति नहीं होने के कारण महिला को ससुराल वालों ने घर से निकाला

बलिया21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पीड़ित महिला ने थाना में आवेदन देकर न्याय की लगाई गुहार, कहा न्याय दिलाया जाए

बछवाड़ा थाना क्षेत्र के चमथा एक पंचायत में महिला को पुत्र की प्राप्ति नहीं होने के कारण परिवार वालों ने महिला को घर से बेघर कर दिया है। पीड़ित महिला सविता देवी ने थाना में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है। पीड़ित महिला ने आवेदन के माध्यम से बताया कि मेरी शादी 2003 में हरेराम राय से हिन्दू रीति रिवाज से सम्पन्न हुई थी।

शादी के पश्चात मुझे तीन पुत्री की प्राप्ति हुई, जिस वजह से मेरे पति, सास-ससुर व परिवार के अन्य लोग नाखुश थे। पुत्र की प्राप्ति नहीं होने के कारण मेरे पति हरेराम राय, ससुर राम शिवबालक राय, देवर जय जय राम राय, देवरानी सविला देवी, सभी मिलकर नित्य दिन मेरे साथ मारपीट करते रहते हैं।

पुत्र की प्राप्ति नहीं होने के कारण मुझे दो माह पूर्व घर से निकाल दिया गया। घर से बेघर होने के बाद मैं अपने मायके में रहने लगी। इस दौरान जब मुझे फिर से चौथी पुत्री की प्राप्ति हुई तो इसकी जानकारी अपने पति को दिया जिसके पश्चात ससुराल वालों ने धमकी देते हुए कहा कि अगर यहां आई तो जान से मार कर फेंक देंगे।

पीड़ित महिला ने थानाध्यक्ष से गुहार लगाते हुए कहा कि मैं अपनी विधवा मां के साथ कब तक ऐसे ही जीवन यापन करजी रहूंगी। पीड़ित महिला ने सभी दोषी पर कानूनी कार्रवाई की मांग की।

खबरें और भी हैं...