छठपूजा महापर्व विशेष:छठ पर्व की तैयारी को लेकर मिट्टी का चूल्हा बनाने में जुटी महिलाएं, नहाय-खाय कल

बलियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
छठ पर्व की तैयारी को लेकर मिट्टी की चूल्हा बनाने में जुटी महिलाएं। - Dainik Bhaskar
छठ पर्व की तैयारी को लेकर मिट्टी की चूल्हा बनाने में जुटी महिलाएं।

सोमवार से आस्था का महापर्व छठपूजा की नहाय खाय के साथ शुरूआत होगी। छठ व्रती महिलाएं शनिवार से ही छठ पूजा की तैयारी में लग चुकी हैं। इसको लेकर महिलाओं द्वारा अपने घर की छतों पर, नदी किनारे एवं सोती किनारे मिट्टी का चूल्हा बनाने का कार्य शुरू हो चुका है। व्रती महिलाएं गंगा किनारे एवं अन्य जल स्त्राेताें के किनारे से मिट्टी लाकर चूल्हा बनाने में जुट चुकी हैं।

आस्था का महापर्व छठ पूजा का महत्व बहुत अधिक‌ माना जाता है। छठ व्रत सूर्य देव, उषा, प्रकृति, जल और वायु को समर्पित हैं। सोमवार को नहाय खाय के साथ छठ पर्व की शुरूआत होगी। मंगलवार को खरना एवं बुधवार को अस्तांचल सूर्य को एवं गुरुवार को उदयमान सूर्य को अर्घ्य दिया जाएगा। दूसरी ओर छठ पर्व को लेकर प्रशासनिक तैयारी भी शुरू हो चुकी है।

बलिया नगर परिषद क्षेत्र के चेचियाही बांध घाट को आकर्षक ढंग से सजाया जा रहा है। वहीं जिला परिषद पोखर की सफाई का भी कार्य किया जा रहा है। जबकि दियारा क्षेत्र के भवानंदपुर पंचायत के भवानंदपुर, शिवनगर एवं साहपुर के लोगों में गंगा किनारे छठ मनाने को लेकर उहापोह की स्थिति बनी हुई है। बताया जाता है कि बलिया दियारा क्षेत्र में गंगा नदी में हो रहे कटाव के कारण गंगा के तट के समीप ही गहरा पानी होने से छठ मनाने में भारी परेशानी है।

खबरें और भी हैं...