• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Barauni
  • Now Coronaradi Vaccination Will Be Conducted Regularly At Barauni Junction Station; Team Members Will Be Stationed At The Station From 9 Am To 4 Pm

सुविधा:अब बरौनी जंक्शन स्टेशन पर नियमित रूप से लगेगी कोरोनाराेधी वैक्सीनेशन; सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक टीम के सदस्य स्टेशन पर रहेंगे तैनात

बरौनी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बरौनी जंक्शन पर यात्रियों को वैक्सीनेशन की डोज देते स्वास्थ कर्मी। - Dainik Bhaskar
बरौनी जंक्शन पर यात्रियों को वैक्सीनेशन की डोज देते स्वास्थ कर्मी।

अब देश के विभिन्न शहरों से ट्रेन से बरौनी पहुंचने वाले रेल यात्रियों को बल्कि शहर से अन्य शहरों को जाने वाले लोगों को ट्रेन में यात्रा करने से पूर्व कोरोना की वैक्सीन स्टेशन पर ही सहजता से उपलब्ध हो पाएगी। इसके लिए तेघड़ा अनुमंडल के स्वास्थ्य विभाग से स्वास्थ्य प्रबंधक संजय कुमार कौशिक के नेतृत्व में बरौनी जंक्शन के सर्कुलेटिंग एरिया में वैक्सीनेशन टीम की स्थाई प्रतिनियुक्ति की गई है। वैक्सीनेशन की टीम ने बरौनी जंक्शन पर लोगों को डोज देना शुरू भी कर दिया है। जिसका लोगों से अच्छा रिस्पांस भी मिला रहा है।

सुबह 9:00 बजे से शाम के 4:00 बजे तक दिया जा रहा कोरोनाराेधी वैक्सीन : हेल्थ मैनेजर संजय कुमार कौशिक ने बताया कि बरौनी जंक्शन के सर्कुलेटिंग एरिया स्थित पूछताछ कार्यालय के सामने वैक्सीनेशन टीम को तैनात की गई है। स्वास्थ विभाग की यह टीम सुबह 9:00 बजे से शाम के 4:00 बजे तक कोरोना के वैक्सीनेशन डोज देने के लिए उपलब्ध होगी।

श्री कौशिक ने बताया कि इस टीम के सदस्य को प्रतिदिन कोरोनाराेधी वैक्सीन की 200 वाइल उपलब्ध करवाई जाती है। लेकिन स्वास्थ्य कर्मियों को निर्देश दिया गया है कि अगर समय के पूर्व डोज समाप्त होने लगे और वैक्सीनेशन का डोज लेने वाले लोगों का आना जारी दिखे तो टीम के सदस्य तुरंत वैक्सीनेशन डोज की उपलब्धता के लिए सूचित करें। विभाग द्वारा यथाशीघ्र अतिरिक्त डोज उपलब्ध करवाने का प्रयास किया जाएगा।

शहर में राेजगार पाने के लिए वैक्सीनेशन जरूरी : दरअसल एक ओर वैक्सीनेशन की डोज नहीं ले पाने के कारण लोग ट्रेन से विभिन्न शहरों को तो चले जाते हैं। लेकिन वहां वैसे लोगों को ना तो किसी फैक्टी में इंट्री मिलती है, न रोजगार मिल पाता है। ना ही बिना वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट के रहने को जगह।

इसी तरह बिना वैक्सीनेशन वाले विभिन्न शहरों से लौट रहे लोग भी क्षेत्र में कोरोना संक्रमण के लिए खतरा बने रहते हैं। लेकिन ट्रेन से उतरने के बाद वे चाह कर भी सेंटर तक पहुंच कर तत्काल डोज नहीं ले पाते। ऐसे लोगों के लिए स्टेशन पर शुरू किया गया कोरोना वैक्सीनेशन डोज कार्यक्रम काफी कारगर साबित होगा।

खबरें और भी हैं...