पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

घर वापसी:लॉकडाउन में गुजरात में फंसे 34 जिलों के 1302 मजदूरों को लेकर सुबह-सुबह ही बरौनी पहुुंची श्रमिक स्पेशल ट्रेन

बरौनी4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • श्रमिक स्पेशल ट्रेन में बेगूसराय जिले के थे 51 लोग, अन्य जिले के प्रवासी लोगों को बसों से भेजा गया उनके जिला मुख्यालय
  • बेगूसराय के आए यात्रियों को बसों से उनके प्रखंड मुख्यालय में बने क्वारान्टीन सेंटर में किया गया क्वारान्टीन

गुजरात के अलग-अलग शहरों में फंसे मजदूरों को वापस अपने जिला तक लाने के लिए चलाई गई दो श्रमिक स्पेशल ट्रेन बुधवार को बरौनी पहुंची। ट्रेन के बरौनी पहुंचने पर सभी रेल यात्रियों को बरौनी जंक्शन के प्लेटफॉर्म पर ही स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा स्वास्थ्य संबंधित पूछताछ, थर्मल स्क्रीनिंग एवं रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी की गई। सभी रेल यात्रियों को नाश्ते का एक-एक पैकेट व शुद्ध पेयजल देकर स्टेशन के बाहर सर्कुलेटिंग एरिया में खड़ी उनके जिले की बसों पर बैठा कर उनके गृह जिला भेज दिया गया, जबकि इस ट्रेन से आए बेगूसराय जिला के लोगों को अलग-अलग बसों से उनके प्रखंड मुख्यालय में बने क्वारान्टीन सेंटर पर पहुंचाया गया। 
प्रत्येक बस पर पुलिस बल के जवानों के अलावे तैनात थे नोडल पदाधिकारी
यात्रियों के बीच सोशल डिस्टेंस बनाए रखने एवं रजिस्ट्रेशन व थर्मल स्कैनिंग की प्रक्रिया शांतिपूर्ण ढंग से पूरा करवाए जाने के लिए बरौनी जंक्शन पर आरपीएफ, आरपीएसएफ, जीआरपी के जवानों के अलावे जिला पुलिस के तैनात जवान ड्यूटी पर मुस्तैदी से लगे हुए थे। वहीं प्रत्येक बस पर एक-एक नोडल पदाधिकारी के अलावे चार से पांच सुरक्षा बल के जवान तैनात थे।
सूरत से आई ट्रेन में 34 जिलों के कुल 1302 यात्री थे सवार

सूरत से बुधवार की सुबह तक 4ः10 बजे बरौनी आई श्रमिक स्पेशल ट्रेन में बिहार के कुल 34 जिलों के 1302 रेल यात्री सवार थे। बेगूसराय जिला के 51 रेलयात्री सवार थे। जबकि अन्य अलग-अलग 33 जिलों के कुल 1251 रेल यात्री सवार थे। सूरत से आए इस श्रमिक स्पेशल ट्रेन में महिला व पुरुषों के अलावे नन्हे-मुन्ने बच्चों की भी अच्छी खासी संख्या थी।
29 घंटों में 1706 किलोमीटर की यात्रा के बदले 710 रुपए रेल भाड़ा की करनी पड़ी अदायगी
सूरत से बरौनी तक आए बिहार के इन लोगों को इस श्रमिक स्पेशल ट्रेन से 1706 किलोमीटर की यात्रा में तकरीबन 29 घंटे का समय लगा। जिसके लिए इन रेल यात्रियों से कुल 710 रुपए प्रति रेलयात्री की वसूली की गई। इसके बदले प्रत्येक रेल यात्रियों को ट्रेन के सुपरफास्ट एक्सप्रेस के स्लीपर बोगी का टिकट उपलब्ध करवाया गया। हालांकि इन किसी भी टिकटों पर इन यात्रियों के लिए आरक्षित बोगी संख्या या बर्थ संख्या अंकित नहीं था।  

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें