पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बुडको कार्यपालक:सर्वोदय नगर व जीडी कॉलेज के पीछे की 1500 मी. सड़क को खोदकर बुडको कह रहा- पैसा ही नहीं है

बेगूसराय18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जीडी कॉलेज के पीछे की सड़क। बारिश के बाद स्थिति इतनी गंभीर हो गई है कि रोज दो-चार राहगीर गिर रहे हैं। - Dainik Bhaskar
जीडी कॉलेज के पीछे की सड़क। बारिश के बाद स्थिति इतनी गंभीर हो गई है कि रोज दो-चार राहगीर गिर रहे हैं।
  • मॉनसून के पहले बन जाएगी सड़क, संवेदक- केवल की जा रही बयानबाजी, नहीं बन पाएगी सड़क

शहर के बहुचर्चित व विवादित जीडी कॉलेज के पीछे की सड़क व सर्वोदय नगर की सड़क को खोद देने के बाद अब बुडको कह रहा है कि सड़क बनने में विलंब हो रहा है क्योंकि विभाग के पास पैसा ही नहीं है! हालांकि बुडको के कार्यपालक अभियंता का दावा है कि वे मानसून से पहले जीडी कॉलेज के पीछे की सड़क को बनवा देंगे। जबकि संवेदक का कहना है कि विभाग बहानेबाजी कर रहा है।

जबतक मानसून खत्म नहीं होगा तब तक सड़क बनाना संभव ही नहीं है क्योंकि सड़क में नल-जल और सीवरेज का पाइप बिछाना है। इसके लिए सड़क में 12 फीट का गड्ढा खोदना है, जबकि अभी महज छह से आठ फीट गड्ढा खोदने पर ही पानी आ जा रहा है। जबकि सर्वोदय नगर सड़क निर्माण के लिए विभाग की तरफ से कोई आवंटन ही नहीं है।

सड़क किनारे बनेगा चार फीट लंबा नाला
जीडी कॉलेज के पीछे बजरंग चौक से रामदयाल मसकरा के घर तक 1500 मीटर लंबी सड़क और चार फीट चौड़ा नाला बनना है। इस सड़क को लेकर नगर निगम से लेकर विपक्ष द्वारा खूब राजनीति की गई है। इस सड़क को बनाने के लिए दो वर्ष पूर्व ही राज्य योजना से स्वीकृति और राशि का आवंटन भी मिला था, लेकिन बुडको द्वारा कार्य नहीं कराया गया।

इसके बाद सीवरेज और नल-जल योजना आने के बाद संबंधित कंपनी ने इस सड़क को पाइप बिछाने के लिए खोद दिया है। सड़क कबतक बनेगी जब इस बारे में पड़ताल की गई तो सच्चाई कुछ और ही निकली। बुडको के कार्यापालक अभियंता ने बताया कि सड़क को राज्य राज्य योजना से बननी है लेकिन इससे पहले सीवरेज और नल-जल का काम होना है।

उन्होंनें कहा कि हमने चार महीने सीवरेज और नल जल का काफी काम करा दिया है, अब हम सड़क निर्माण के लिए संवेदक से आग्रह कर रहे हैं। क्योंकि योजना में अब आवंटन नहीं है। हालांकि उन्होंने दावा किया कि बारिश समाप्त होते ही काम शुरू होगा। वहीं संवेदक संजय यादव ने बताया कि जबतक बुडको अपना कार्य पूरा नहीं कर लेता है, तबतक हम सड़क निर्माण आगे नहीं बढ़ा सकते हैं।

आवंटन आने तक बीपी स्कूल से नौलखा तक की जर्जर सड़क का काम ठप
इसी तरह राज्य योजना से बनने वाले शहर के सर्वोदय नगर की सड़क जो बीपी स्कूल से नौलखा तक बनना है। इस बारिश से पहले शायद ही बन सकेगा। सड़क निर्माण कार्य करा रहे संवेदक ने बताया कि आवंदन नहीं रहने के कारण पिछले दस दिनों से काम बंद है। उन्होंनें बताया कि राज्य योजना लगभग सड़कों का यही हाल है, टेंडर निकाल देने के बाद आवंटन के आभाव में सड़क अधूरी रह रही है।

उन्होंनें बताया कि 1400 मीटर लंबा और 12 फीट चौड़े सड़क निर्माण के लिए दो करोड़ 56 लाख का बजट था। लेकिन विभाग द्वारा अभी तक जिला को 45 लाख का आवंटन ही भेजा गया है। उन्होंने बताया कि उनके द्वारा करीब एक करोड़ से अधिक का काम किया जा चुका है।

जानलेवा रास्ता
सड़क इतनी जर्जर कि जा सकती है लोगों की जान
मालूम हो कि शहर के जीडी कॉलेज के पीछे की सड़क इन दिनों मौत को दावत दे रही है। हर दिन इस सड़क से जाने वाली गाड़ी सीवरेज के लिए खोदे गए गड्ढे में फंस रहे हैं। पानी और कीचड़ होने की वजह से इस सड़क पर अब चलना भी मुश्किल हो रहा है। स्थिति यह है कि कुछ देर की बारिश में यह सड़क जानलेवा हो जाती है। ज्ञात हो कि यह सड़क भारी वाहनों के शहर में प्रवेश का सबसे मुख्य मार्ग है। चट्टी रोड आने वाले भारी वाहन आजतक इसी सड़क से होकर आते थे। लेकिन अब यह सडक भारी वाहनों के लिए पूर्णतः वर्जित है। क्योंकि यहां फंसने का मतलब है, फजीहत क्यों कि यहां कोई दूसरी गाड़ी भी खीचने नहीं आ सकती है।

खबरें और भी हैं...