पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बेगूसराय में 2 बच्चों समेत 3 की डूबने से मौत:तेघड़ा में दुकान से सामान लाने गए थे दोनों बच्चे, बोरवेल में डूबे; मंझौल में कपड़ा धोते समय पोखर में डूबी महिला

बेगूसरायएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तेघड़ा में दोनों बच्चों की मौत के बाद रोते-बिलखते परिजन। - Dainik Bhaskar
तेघड़ा में दोनों बच्चों की मौत के बाद रोते-बिलखते परिजन।

बेगूसराय में दो अलग-अलग हिस्सों में गहरे में डूबकर 2 बच्चों समेत 3 लोगों की मौत हो गई। जिले में पिछले 3 दिनों से हो रही लगातार बारिश से जगह-जगह पानी भर गया था। पहली घटना तेघड़ा अनुमंडल के तेघड़ा थाना क्षेत्र स्थित बिसौआ गांव में शनिवार रात बिसौआ निवासी सुरेंद्र यादव का पुत्र लाला और श्याम खेलने के लिए घर से बाहर निकले थे। काफी देर बाद तक जब दोनों बच्चे घर वापस नहीं आए तो परिजन उन्हें ढूंढने घर से बाहर निकले लेकिन उनका कोई पता नहीं चला। इसी क्रम में लोगों ने घर से थोड़ी दूर पर बने एक बोडिंग के गड्ढे के पास खोजने की सलाह दी। जिसके बाद बोरवेल के बने गड्ढे से ग्रामीणों ने दोनों बच्चों का शव देर शाम बरामद किया।

घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया। आसपास के लोगों की भीड़ लग गई। इधर, घटना की सूचना मिलते पुलिस मौके पर पहुंच गई। आसपास के लोगों की भीड़ लग गई। पुलिस ने दोनों बच्चों के शवों कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस के अनुसार पानी भरे गड्‌ढे में डूबकर दोनों बच्चे की मौत हो गई। परिजनों को मुआवजे का आश्वासन दिया गया है। मृतक के पिता सुरेंद्र यादव ने बताया कि घर के लोगों ने बच्चों को दुकान से कुछ सामान लाने के लिए भेजा था। दुकान के पास ही चार पांच फीट का बोरवेल का गड्ढा था जिसमें बच्चे खेलने लगे थे।

कपड़ा धोने गई थी महिला, पोखर में डूबकर हुई मौत
वहीं दूसरी घटना मंझौल अनुमंडल क्षेत्र के गढ़पुरा थाना स्थित कुम्हारसों गांव की है, जहां कुम्हारसो निवासी राम लखन दास की पत्नी बिंदु देवी की पोखर में डूब गई। जब तक लोग उसकी मदद के लिए पहुंचे तब तक उसकी जान चली गई थी। मृतक महिला कपड़ा धोने के लिए पोखर के समीप गई थी। बारिश की वजह से पोखर में अत्यधिक पानी हो गया था, जिसका अंदाजा उन्हें नहीं था। कपड़ा धोने के क्रम में उनका पैर फिसला और वह गहरे पानी में चली गई और डूब कर उसकी मौत हो गई ।

खबरें और भी हैं...