हत्या का केस वापस नहीं लिया तो मार दी गोली:2019 में बेटे को मार डाला था; अब केस वापस लेने के लिए धमका रहा था, बात नहीं मानी तो दाग दी गोली, नाजुक

बेगूसरायएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक तस्वीर। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक तस्वीर।

बेगूसराय में अपराधियों ने एक पिता को गोलियों से इसलिए भून डाला, क्योंकि उन्होंने अपने बेटे की हत्या का केस वापस नहीं लिया। हत्यारोपी इस बात के लिए बार-बार जान से मारने की धमकी दे रहा था। इसके बाद भी जब पिता ने केस वापस नहीं लिया तो बाइक सवार तीन अपराधी आए और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। इसमें वह बुरी तरह जख्मी हो गए। स्थानीय लोगों ने उन्हें PHC में भर्ती करवाया। डॉक्टरों ने उन्हें बेहतर इलाज के लिए बेगूसराय सदर अस्पताल रेफर कर दिया। उनकी हालत नाजुक बनी हुई है।

घायल की पहचान खगड़िया के अलौली थाना क्षेत्र के वार्ड संख्या-10 सुम्भा गाजीघाट के रहने वाले पलटन पोद्दार के पुत्र नंदकिशोर पोद्दार (46 वर्ष) के रूप में की गई है। परिजनों ने बताया कि 2019 में अपराधियों ने नंदकिशोर पोद्दार के पुत्र की हत्या कर दी थी। इस हत्या का मामला न्यायालय में चल रहा है। हत्यारोपी सजा होने के डर से नंदकिशोर पोद्दरा से केस वापस लेने की धमकी दे रहा था। अपराधियों की धमकी नहीं मानने पर आरोपी ने गाजीघाट चौक के पास ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। इस दौरान नंदकिशोर को दो गोलियां लगीं, जिससे वह बेहोश होकर जमीन पर गिर गए। गोलीबारी से अफरातफरी का माहौल उत्पन्न हो गया।

नंदकिशोर ने बताया कि गोली मारने के बाद अपराधी हवाई फायरिंग करते हुए आराम से फरार हो गए। घटना की सूचना मिलते ही अलौली थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और घायल को इलाज के लिए अस्पताल भेज दिया। पुलिस अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी में जुट गई है। फिलहाल घायल बेगूसराय शहर के एक निजी अस्पताल में इलाजरत है, जहां उनकी स्थिति चिंताजनक बताई जा रही है।

खबरें और भी हैं...