रंगदारी में मछली नहीं देने पर मछुआरे की पिटाई:हथियार लैस अपराधियों ने मछुआरे से रंगदारी में मांगी मछली, विरोध करने पर जमकर पिटाई और छीन लिए 15 हजार रुपये

बेगूसराय3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रंगदारी में मछली नहीं देने पर मछुआरे की पिटाई। - Dainik Bhaskar
रंगदारी में मछली नहीं देने पर मछुआरे की पिटाई।

बेगूसराय में अपराधियों का हौसले बुलंद होते जा रहा हैं। ताजा मामला जिले के बलिया थाना इलाके का है। जहां एक मछुआरे को अपराधियों का विरोध करना महंगा पड़ गया। दरअसल हथियारलैस अपराधियों ने मछुआरे से रंगदारी में मछली मांगा था। लेकिन जब उसने इसका विरोध किया तो अपराधियों ने उसकी जमकर पिटाई कर गंभीर रूप से घायल कर दिया।

वहीं इस घटना को लेकर पीड़ित परिवार द्वारा ये आरोप भी लगाया गया है कि अपराधियों ने न सिर्फ मारपीट की बल्कि मछली सहित नगद 15 हजार रुपये लेकर भी भाग गए। घायल की पहचान बलिया थाना क्षेत्र के तुलसी टोल वार्ड संख्या 1 के रहने वाले चौधरी सहनी का लगभग 60 वर्षीय पुत्र फोटर सहनी के रूप में बताया जा रहा है।

परिजनों ने बताया कि अपराधियों द्वारा पहले मोबाइल पर रंगदारी नहीं देने पर जान से मारने की धमकी दिया गया था। ऐसे में तुलसी टोल बांध के निकट हथियारलैस अपराधियों ने बेरहमी से पिटाई करनी शुरू कर दी। उसने बताया कि अपराधियों ने बंदूक के कुंधे से पीट-पीटकर अधमरा कर दिया। जिसके बाद पीड़ित बेहोश होकर वहीं जमीन पर गिर गया और अपराधियों ने नगद 15 हजार रुपये सहित मछली लेकर मौके से भाग खड़ा हुआ।

परिवार वालों का कहना है कि बेहोश देख स्थानीय लोगों ने उठाकर जख्मी को उसके घर पहुंचाया। तब जाकर परिजन घायल को इलाज के लिए स्थानीय पीएचसी में भर्ती कराया। जहां डॉक्टरों ने स्थिति को गंभीर देख बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल बेगूसराय रेफर कर दिया। फिलहाल पीड़ित सदर अस्पताल में भर्ती बताया जा रहा है जहां उसकी स्थिति चिंताजनक बनी हुई है।

खबरें और भी हैं...