सड़क की जर्जरता दर्शा रही अधिकारियों की भ्रष्टता:बेगूसराय के निगम इलाकों में सड़क पर भरा पानी लोगों के लिए जानलेवा साबित हो रहा, स्थानियों का आरोप- नगर निकाय से लेकर आला अधिकारियों तक सभी हैं जिम्मेदार

बेगूसराय3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
स्थानीय लोगों को मजबुर होकर इस सड़क पर गिरते पड़ते जाने को विवश है। - Dainik Bhaskar
स्थानीय लोगों को मजबुर होकर इस सड़क पर गिरते पड़ते जाने को विवश है।

बेगूसराय के बिशनपुर सड़क पर बने गढ़े और उस गड्ढे में भरे पानी लोगों के लिए जानलेवा साबित हो रहा है। आते जाते लोग अधिकारियों को कोसने से नहीं चूकते। सड़क की जर्जरता से लोगों को फजीहत झेलना मानों दैनिक दिनचर्या में शामिल करना जैसे हो गया है। ऐसे में स्थानीय लोगों को मजबुर होकर इस सड़क पर गिरते पड़ते आगे बढ़ना विवशता बन गई है।

वहीं लोगों को इन सड़कों पर चलना इसलिए विवशता है, क्योंकि ये सड़क महिला कॉलेज, जीडी कॉलेज, बीपी इंटर कॉलेज, कॉलेजियट इंटर कॉलेज, जिलाधिकारी कार्यालय, एसपी कार्यालय, नगर थाना, एलआईसी ऑफिस, न्यायालय ,सदर अस्पताल सहित दर्जनों शिशु एवं अन्य विशेषज्ञ डॉक्टरों की क्लिनिक सहित बाजार जाने के लिए मुख्य मार्ग माना जाता है। ऐसे सड़कों की अनदेखी से लोगों में आक्रोश व्याप्त है।

मोहल्ले की महिलाएं, वुद्धिजीवी, व छात्राओं सहित राहगीरों को गिरते देख आसपास के लोग बेचैन हो जाते हैं। उनका आरोप है कि इस सरकार के सभी अधिकारी भ्रष्टाचारी हैं। निगम वासियों में मदुसुदन प्रसाद उर्फ पिंटू ने आक्रोशित लहजों में बताया कि इस दुर्दशा के लिए निगम के वासी ही दोषी है, जो ऐसे लोगों को चुनकर भेजता है। उनका गम्भीर आरोप यह भी लगाया है कि निकाय से लेकर आला अधिकारियों तक सभी के सभी भ्रष्ट हैं। मदुसुदन ने कहा कि कि इन सड़कों से सांसद, विधायक सहित जिले के तमाम अधिकारी गुजरते हैं लेकिन सभी गूंगे और बहरे बनकर। प्रसाद ने अफशोस जाहिर करते हुए बताया कि कि मौजूदा समय चुनाव होना है लेकिन फिर से लोगों को जाति धर्म मे बांट दिया जाएगा और फिर स्थिति जस की तस बनी रहेगी।

खबरें और भी हैं...