पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ऑन लाईन क्लास:63 दिनों के बाद खुले कॉलेज, प्रथम दिन छात्रों की उपस्थिति रही कम

बेगूसरायएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

63 दिनों के बाद बुधवार को जिला का सभी कॉलेज खुल गया है। लेकिन कॉलेजों में छात्रों की उपस्थिति नगण्य रही। इस दौरान जीडी कॉलेज के अर्थशास्त्र विभाग में प्राध्यापक डा जिकरूल्लाह बीए पार्ट-2 के छात्र प्रिंस कुमार एवं आरती कुमारी को पढ़ा रहे थे। वहीं प्राध्यापक कक्ष में अन्य प्राध्यापक काफी प्रसन्न मूद्रा में आपस में बात करते देखे गए।

इस दौरान पुछे जाने पर एक प्राध्यापक ने कहा कि मौसम खराब होने एवं छात्रों को जानकारी नहीं होने की वजह से प्रथम दिन छात्र कॉलेज नहीं पहुंचे हैं। पुरे कॉलेज भ्रमण करने पर मुश्किल से दस छात्र इधर-उधर घुमते मिले। इस प्रकार पुरा कॉलेज परिसर काफी शांत दिखा। कॉलेज में पचास फीसदी छात्रों की उपस्थिति को लेकर क्या व्यवस्था की गई है।

इसको लेकर जब पड़ताल किया गया तो अंग्रेजी के प्राध्यापक प्रो कमलेश कुमार ने बताया कि ऑन लाईन क्लास के दौरान 9,10,14 छात्र शामिल हो पाते थे। इस दौरान मात्र एक दिन 17 छात्र ऑनलाईन क्लास में शामिल हुए। वहीं स्नातक में मात्र 8 एवं 10 छात्र शामिल हुए। जबकि 212 छात्र नामांकित है। इस स्थिति में पचास फीसदी उपस्थिति की कल्पना भी नहीं किया जा सकता है। वैसे आड इवन का फार्मूला लागू किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि विश्वविधालय द्वारा सभी कर्मी एवं छात्रों के लिए टीका लगाना अनिवार्य कर दिया है।

क्लास रूम के आगे सेनिटाइजर की व्यवस्था होनी चाहिए

इस दौरान भौतिकी विभाग की छात्रा कौशिकी सिन्हा ने कहा कि क्लास रूम के आगे सेनिटाईजर की व्यवस्था होनी चाहिए। जिससे की क्लास में प्रवेश करने एवं वर्ग समाप्त होने के बाद निकलने पर हाथों को सेनिटाईज किया जा सके। वद्यार्थियों को मास्क पहनकर आना अनिवार्य होना चाहिए। शांतनु कुमार ने बताया कि छात्र-छात्राएं नयी ऊर्जा को लेकर कॉलेज आएगें। वैसे विद्यार्थी जो लाइब्रेरी से दूर रह रहे थे वो अब लाइब्रेरी में जाकर भी अध्ययन कर पाएंगे।

खबरें और भी हैं...