परिवाद पत्र दायर:जीतन राम मांझी पर बेगूसराय न्यायालय में परिवाद पत्र दायर

बेगूसराय21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के खिलाफ प्रभारी सीजेएम धीरेंद्र कुमार पांडेय के न्यायालय में ब्राह्मण परिषद के बेगूसराय जिला अध्यक्ष कृष्ण मोहन झा ने परिवाद पत्र दायर किया है। प्रभारी सीजीएम द्वारा परिवाद पत्र पर संज्ञान लेते हुए केस को दूसरे कोर्ट में ट्रांसफर कर दिया गया है, जिस पर 18 जनवरी को सुनवाई की तिथि तय की गई है।

मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के महारथपुर गांव निवासी परिवादी कृष्ण मोहन झा ने जीतन राम मांझी पर परिवाद पत्र दायर कर आरोप लगाया है कि पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने सार्वजनिक रूप से ब्राह्मणों के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग किया है, इससे ब्राह्मण समाज ही नहीं उनका परिवार और वह व्यक्तिगत रूप से आहत हैं।

उनके बयान से समाज में जिल्लत महसूस होती है। इसलिए संवैधानिक पद पर रहने वाले जीतन राम मांझी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई के लिए न्यायालय में परिवाद पत्र दायर किया है। परिवादी के अधिवक्ता ऋषिकेष पाठक ने बताया कि प्रदेश का मुख्यमंत्री रह चुके जीतन राम मांझी के आपत्तिजनक भाषा के प्रयोग से आहत होकर ब्राह्मण परिषद के जिला अध्यक्ष कृष्ण मोहन झा ने परिवाद पत्र दायर किया है। अब इस मामले में अगली सुनवाई 18 जनवरी को होगी।

खबरें और भी हैं...