हादसा:बरौनी के मिर्जापुर चांद पोखर में डूबने से इंटर की छात्रा की मौत

बेगूसराय2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • घर पुताई के लिए मिट्टी लाने गई थी, पांच माह पूर्व हुई थी गोपाल से शादी

बरौनी थाना क्षेत्र के निंगा पंचायत के वार्ड संख्या-14 लदौरा गांव निवासी मनोज पासवान की विवाहित पुत्री स्वीटी कुमारी की मौत मिर्जापुर चांद पोखर में डूबने से हो गई। यह जानकारी तब मिली जब मिर्जापुर चांद पोखर में गौपालकों द्वारा पशुओं को धोने के क्रम में एक युवती के शव को पोखर के किनारे पड़ा देखा।

पोखर में शव होने की सूचना के बाद ग्रामीणों की भीड़ पोखर पर उमड़ पड़ी। जिसके बाद मृतका की पहचान निंगा पंचायत के ही वार्ड संख्या-14 लदौरा गांव निवासी मनोज पासवान की 19 वर्षीया विवाहित पुत्री मिर्जापुर चांद प्लस टू विद्यालय की छात्रा स्वीटी कुमारी के रूप में की गई।

इधर पोखर में शव होने की सूचना लगते ही मृतका के पिता मनोज पासवान, मां मीरा देवी, चाचा सहित अन्य स्वजनों ने शव की शिनाख्त की। इधर घटना की सूचना पाते ही बरौनी थाना की पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंच कर शव को कब्जे में ले लिया।

जानकारी के अनुसार, मृतका स्वीटी कुमारी अपने पिता मनोज पासवान के ही घर में रह कर मिर्जापुर चांद प्लस टू विद्यालय से इंटर की पढ़ाई कर रही थी। घटना के संबंध में पुलिस को जानकारी देते हुए मृतका की मां मीरा देवी ने बताया कि हमारी पुत्री बीती शाम करीब पांच बजे गांव से सटे मिर्जापुर चांद पोखर में जिउतिया पर्व को लेकर मिट्टी लाने गई थी।

जिससे घर आंगन की पोताई करनी थी। देर शाम तक वापस लौट कर नहीं आने पर परिजनों के सहारे काफ़ी खोजबीन की गई पर पता नहीं चल सका। सुबह में ग्रामीणों ने स्वीटी कुमारी का शव पोखर में होने की सूचना दी। दूसरी तरफ ससुराल वालों को घटना की सूचना मिलते ही मृतका की ननद, सास सहित अन्य परिजन घटनास्थल पर पहुंच कर चित्कार मारने लगे।

पांच माह पूर्व चेरियाबरियारपुर के परमानपुर में हुई थी शादी
विदित हो कि विगत पांच माह पूर्व ही जिले के चेरिया बरियारपुर थाना क्षेत्र अन्तर्गत परमानपुर गांव निवासी आनन्दी पासवान के पुत्र गोपाल कुमार के साथ स्वीटी की शादी हूई ही थी। पति गोपाल कुमार प्रदेश में रहकर मजदूरी करता है और पिता मनोज पासवान गांव में ही रहकर मजदूरी कर रहे हैं और परिवार का भरण-पोषण करता है।

मृतका चार भाई-बहनों में सबसे बड़ी थी। घटना की जानकारी देते हुए बरौनी थाना प्रभारी सुरेन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि मामले की जानकारी के बाद पुलिस पदाधिकारी ए एस आई उमेश यादव द्वारा कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु सदर अस्पताल बेगूसराय भेज दिया गया है।

खबरें और भी हैं...