पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तैयारी:आदर्श ग्राम सिमरिया की नेहा सिपाही से बनी एसआई

बेगूसराय2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

इच्छा शक्ति और लगन के सामने बाधाएं छोटी पड़ जाती है यह उदाहरण पेश किया है आदर्श ग्राम सिमरिया की नेहा कुमारी ने। नेहा बीएमपी-4 बक्सर डुमरांव में सिपाही के पद पर 20018 में बहाल हुई। वह शुरू से ही लगातार आगे बढ़ने की ललक की वजह से पढ़ाई करती रही और नौकरी करते हुए उसने स्नातक किया और बिहार पुलिस में जेल सहायक अधीक्षक यानी एसआई बन गई है। नेहा मैट्रिक ओमर बालिका उच्च विद्यालय से

एवं इंटर एवं स्नातक जीडी कॉलेज से की है।‌ उसके पिता बेगूसराय बीएमपी 8 में चालक हवलदार के पद पर कार्यरत हैं। वहीं मां सरकारी स्कूल में शिक्षिका है। इस संबंध में उनके पिता हवलदार अजीत कुमार बताते हैं कि नेहा बचपन से ही काफी मेहनती एवं अनुशासित रही है। यही वजह है कि नौकरी करते हुए उसने लगातार आगे की तैयारी करती रहे। इसी का परिणाम है कि आज सिपाही से एसआई बन पाई है।

खबरें और भी हैं...