पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Begusarai
  • Not A Single Nomination Took Place On The First Day, Bogo Singh, Dr. Meera Singh Sanjay Gautam And Rajendra Prasad Singh Bought Nomination Form

विधानसभा चुनाव:पहले दिन नहीं हुआ एक भी नामांकन, बोगो सिंह, डॉ. मीरा सिंह संजय गौतम और राजेन्द्र प्रसाद सिंह ने खरीदा नामांकन प्रपत्र

बेगूसरायएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • अलग-अलग विधानसभा क्षेत्र में कुल 16 लोगों ने नाजीर रसीद कटवाया, प्रत्याशी के इंतजार में रहे अधिकारी
  • नॉमिनेशन के प्रथम दिन समाहरणालय व उसके आसपास तैनात पुलिस पदाधिकारी व जवान काफी सक्रिय दिखे

जिला के सातों विधानसभा क्षेत्रों में प्रथम दिन एक भी प्रत्याशी ने नामांकन नहीं कराया। हालांकि अलग-अलग विधानसभा क्षेत्र में कुल 16 लोगों ने नाजीर रशीद कटवाया। बेगूसराय विधानसभा क्षेत्र संख्या 146 से प्रथम दिन संजय गौतम, डॉ मीरा सिंह, वरुण कुमार, देव कांत सिंह, अमरजीत साह, वीरेंद्र प्रसाद साह।

मटिहानी विधानसभा क्षेत्र संख्या 144 से महा गठबंधन उम्मीदवार, माकपा प्रत्याशी पूर्व विधायक राजेंद्र प्रसाद सिंह, एनडीए उम्मीदवार मटिहानी से विधायक नरेंद्र कुमार सिंह उर्फ बोगो सिंह, अमित कुमार ने नाजीर रशीद कटवाया।

इसके अलावे तेघड़ा अनुमंडल कार्यालय में चार और बछवाड़ा विधानसभा क्षेत्र के 2 लोगों ने तेघड़ा डीसीएलआर कार्यालय में नाजीर रशीद कटवाया। वहीं बखरी विधान सभा क्षेत्र से एक प्रत्याशी ने बखरी अनुमंडल कार्यालय में रसीद कटवाया। जबकि साहेबपुर कमाल विधानसभा क्षेत्र से एक भी प्रत्याशी ने नाजीर रशीद नहीं कटवाया। दूसरे चरण के नॉमिनेशन के प्रथम दिन समाहरणालय एवं उसके आसपास तैनात पुलिस पदाधिकारी एवं जवान काफी सख्त दिखे। 12 बजे तक कैंटीन चौक, नवाब चौक एवं नगर निगम चौक से आवाजाही सामान्य दिनों की तरह चल रहा था। लेकिन डीएम के प्रेस वार्ता में पहुंचे एसपी अवकाश कुमार के बाद कैंटीन चौक पर तैनात पुलिस बल काफी सख्त हो गए।

कैंटीन चौक की ओर से एसडीओ ऑफिस जाने वाले अधिकारी की गाड़ी हो या फिर सामान्य लोग किसी को भी जाने नहीं दिया गया। इस दौरान जिला योजना के सहायक योजना पदाधिकारी सहित कई पदाधिकारियों को परिचय देने एवं गाड़ी में बोर्ड लगे रहने के बावजूद जाने से रोका गया और उन्हें अपनी गाड़ी पीछे करनी पड़ी।

इसके साथ ही नवाब चौक के समीप तैनात पुलिस पदाधिकारी द्वारा ढील देने की वजह से या फिर सदर एसडीओ कार्यालय से निकलने वाले बाइक सवार एवं साइकिल सवार को भी कैंटीन चौक की ओर निकलने नहीं दिया गया और उन्हें बैरंग वापस कर दिया गया, जिसकी वजह से पुलिस बल एवं आम लोगों के बीच कई बार तू तू मैं मैं भी हुआ।

इस दौरान समाहरणालय में काम कर रहे चतुर्थवर्गीय एक कर्मी द्वारा परिचय पत्र दिखाए जाने के बावजूद बाइक से जाने नहीं दिया गया। तैनात एएसआई ने कहा कि डीएम साहब का ही आदेश है किसी की बाइक या चार चक्का को इधर से नहीं जाने दिया जाए। ऐसे में आप किसी बड़े अधिकारी से बात कराइए, तभी जाने देंगे।

इसके बाद कर्मी अपनी बाइक कैंटीन चौक पर गांधी स्टेडियम की दीवार से लगाकर कार्यालय चला गया। इसी दौरान एक साइकिल सवार युवक को तैनात पुलिस वाले ने पहले बैरिकेडिंग पार नहीं करने को लेकर समझाया और नहीं मानने एवं अपने रसूख का धौंस जमाते हुए किसी को फोन लगाएं जाने पर उसकी पिटाई की गई। यह देख वहां तैनात पुलिस पदाधिकारी ने मीडिया वालों की उपस्थिति देख युवक को मारने से रोका।

खबरें और भी हैं...