पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मेट्रिक रीजल्ट:घर पर छप्पर तक नहीं, लॉकडाउन में गांव केे शिक्षक से पढ़कर आयी फोर्थ

बेगूसराय14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मनीषा कुमारी ...नहीं फूलते कुसुम मात्र राजाओं के उपवन में, अमित बार खिलते वे पुर से दूर कुंज कानन में! राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की रचना रश्मिरथी की उक्त पंक्ति दसवीं बोर्ड के टॉपर्स पर सटीक बैठती है। बोर्ड की परीक्षा में राज्य के टॉप टेन में शामिल जिले के कई ऐसे छात्र हैं जिनकी पारिवारिक स्थिति ऐसी है कि पढाई तो दूर माता-पिता को पेट पालने के लिए रोज कमाने की जरूरत पड़ती है। राज्य की चौथी टॉपर बनी हाई स्कूल रजौड़ा की छात्रा मनीषा कुमारी के घर पर ठीक से छप्पर भी नहीं है। सदर प्रखंड के सिकन्दरपुर में सिर छिपाने के लिए उसका घर डिस्को छप्पर का बना है। आर्थिक तंगी इतनी है कि पिता किसान हैं वहीं मां घर के खर्चों को पूरा करने के लिए सिलाई करती है। लॉकडाउन के दौरान जब स्कूल बंद हो गया था, उस समय वे गांव के ही एक शिक्षक से पढ़ी, साथ ही घर में रहकर ही खुद से मेहनत की। भले ही घर की स्थिति तंग थी पर मनीषा के माता पिता ने हर संभव मदद की। जिसके कारण उसे यह मुकाम हासिल किया है। मनीषा ने बताया कि आगे चलकर वह सिविल सर्विस की परीक्षा पास का आईपीएस बनना चाहती है।

बिजली पंडित

पिता ढोते हैं ईंट, मां करती है मजदूरी बेटा मैट्रिक में प्रदेश में टॉप-10 में आया

बेगूसराय| राजमिस्त्री के साथ ईंट ढोने का काम करने वाले कोरैय पंचायत के हरखपुरा निवासी करबुल का पुत्र बिजली पंडित ने भी बोर्ड की परीक्षा में टॉप टेन में शामिल हुआ है। डॉक्टर लोहिया प्लस टू हाई स्कूल मोरतर का छात्र बिजली पंडित के घर की स्थिति काफी दयनीय है। उसके पिता करबुल पंडित राजमिस्त्री के साथ ईंट ढोने के अलावा विभिन्न तरह का मजदूरी करते हैं। बिजली की मां घुरणी देवी भी मजदूरी करती है। इतना ही नहीं खुद बिजली भी पढ़ाई के बाद समय मिलने पर मजदूरी कर माता-पिता को सहयोग करते थे। इसी तरह आरकेसी फुलवरिया बरौनी के छात्र आशीष झा ने मैट्रिक परीक्षा में राज्य में दसवां स्थान प्राप्त किया है। आशीष के पिता घर चलाने के लिए दैनिक मजदूरी करते हैं। लेकिन खुद की मेहनत ऐसी थी कि आशीष राज्य टॉप टेन में शामिल हुआ। जबकि रजौड़ा की छात्रा अपने मां के साथ खुद भी दूसरों के कपड़े सिलती है, तो बरौनी आरकेसी के छात्र अपने पिता के साथ दैनिक मजदूरी भी करता है। बिजली ने बताया कि आगे भई वो कड़ी मेहनत कर पढ़ाई करेगा और इंटर में भी रैंक होल्डर बनने का प्रयास करेगा।

अवनीश कुमार

ग्रामीण चिकित्सक का बेटा 482 अंक लाकर बना राज्यभर का तीसरा टॉपर

बेगूसराय| एसएएस उच्च विद्यालय बलिया के छात्र मनसेरपुर निवासी अवनीश कुमार ने मैट्रिक परीक्षा में 482 अंक लाकर बिहार में तीसरा स्थान प्राप्त किया है। मनसेरपुर निवासी पिता ओम प्रकाश महतो एवं माता नूतन कुमारी के दो पुत्र एवं एक पुत्री में अवनीश कुमार बचपन से ही पढ़ने में प्रतिभावान था। उसके पिता गांव में ही रह कर ग्रामीण चिकित्सक का कार्य करते हैं। जबकि माता मनसेरपुर पंचायत के वार्ड 9 में आंगनवाड़ी सेविका है। अवनीश के दादा होमगार्ड के जवान हैं। इसके अलावे भी जिले के कई छात्र-छात्राओं ने 90 प्रतिशत से अधिक अंक हासिल कर अपने गांव, स्कूल और कस्बों का नाम रौशन किया है। लेकिन उनमें से अधिकांश बच्चें पारिवारिक रूप से बेहद कमजोर हैं। भले ही ये बच्चे पारिवारिक रूप से कमजोर हैं, लेकिन मानसिक रूप से इतने सबल थे कि आर्थिक तंगी भी इनके पढ़ाई में बाधा नहीं पहुंचा सकी। कई बच्चे गांव में रहकर सिमुलतला की परीक्षा पास कर राज्य टॉप टेन में शामिल हुई। जबकि कुछ ने घर पर रहकर गांव के ही शिक्षक से पढ़कर यह मुकाम हासिल किया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें