ये तो गलत है / प्रशासन का ढीला तेवर देखते ही बाजारों में उमड़ पड़ी भीड़

Seeing the lax attitude of the administration, the crowd thronged the markets
X
Seeing the lax attitude of the administration, the crowd thronged the markets

  • मुख्य बाजार स्थित कपड़ा की दुकानों कॉस्मेटिक सहित अन्य दुकानों पर लोगों का तांता लगा रहालोग भूल गए सोशल डिस्टेंस

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

मीरगंज. शनिवार को प्रशासन का तेवर ढीला पड़ते ही बाजार में लोगों की  भीड़ उमड़ पड़ी। शहर के मुख्य बाजार स्थित कपड़ा की दुकानों कॉस्मेटिक सहित अन्य दुकानों पर लोगों का तांता लगा रहाऔर कुछ देर के लिए अफर-तफरी बनी रही। इस दौरान बाजारों मे वैसी भी दुकाने खुली जिन्हें प्रशासन के तरफ से खोलने पर मनाही थी।

शहर के मीठा बाजार, मिल रोड, राजेंद्र चौक, स्टेशन चौक, जहरबादी मोहल्ला आदि क्षेत्रों में काफी भीड़ देखी गई, वही सोनार टोली जैसे इलाकों जैसे इलाकों में आम दिनों की तरह सुनसान की स्थिति बनी रही।खास बात देखने की यह भी रही इस दौरान मेन रोड पर दुकानदारों का द्वारा नियमों का पालन किया जा रहा था पर भीतर मेन मार्केट में मार्केट में खुलेआम लॉक डाउन का उल्लंघन हो रहा था। शहर के मछली और चिकन बाजारों में भी साफ सफाई रखने का प्रशासन का अनुरोध बेअसर साबित हो रहा है और धड़ल्ले से गंदी जगहों पर मीट, मांस का बाजार चल पड़ा है।
गाइडलाइन स्पष्ट ना होने से दुकानदारों में गफलत
स्थानीय प्रशासन के द्वारा दुकानों के खोलने संबंधी स्पष्ट नियम ना होने के कारण स्थानीय दुकानदारों में काफी गलतफहमी पैदा हो रही है। दुकानदारों का कहना था कि स्थानीय प्रशासन के द्वारा स्पष्ट रूप से से नियमों की जानकारी नही दी जा रही हैं। इसके कारण अफवाहों का बाजार गर्म हो रहा है और दुकानदार किंकर्तव्यविमूढ़ बने दिख रहे हैं। कार्यपालक पदाधिकारी केशव कुमार गोयल ने कहा कि बाजार में आते समय सरकार के द्वारा सुझाए गए डिस्टेंसिग के नियमों का अवश्य पालन करें ताकि किसी तरह की अनहोनी से बचा जा सके।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना