पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हत्याकांड:नूनवती देवी व दुखो सहनी की हत्या पुलिस के लिए अबतक बनी पहेली

बेगूसराय8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दोनों हत्याकांडों में पुलिस अबतक किसी भी नतीजे पर नहीं पहुंची

ब्लाइंड मर्डर केस की गुत्थी सुलझाने में बेगूसराय पुलिस का रिकॉर्ड काफी खराब है। एक-दो मामले को छोड़ कर अधिकतर ब्लाइंड मर्डर केस की गुत्थी पुलिस के लिए अबूझ पहेली ही बनी हुई है। लाख प्रयास के बाद भी पुलिस इन मामलों में किसी नतीजे पर नहीं पहुंच सकी है।

केस एक : विधवा नूनवती देवी हत्याकांड 55 दिनों के बाद भी रहस्य बरकरार

नावकोठी थाना क्षेत्र के नावकोठी बाजार में 29 मई को बदमाशों ने दुकान सह आवास में बुजुर्ग विधवा महिला नुनवती देवी की निर्दयतापूर्वक हत्या कर दी गई। इस ब्लाइंड मर्डर केस की गुत्थी 55 दिन बाद भी पहेली बनी हुई है। इस मामले में मृतका के भाई नीमा चांदपुरा थाना क्षेत्र के वंद्धार निवासी सुरेश साह ने साजिशन हत्या की एफआईआर दर्ज कराई थी।

केस दो : दुखो सहनी हत्याकांड की गुत्थी अब तक नहीं सुलझी

वीरपुर पुलिस ने 30 जून को सरौजा-लक्ष्मीपुर चौर से लक्ष्मीपुर निवासी दुखो सहनी का शव बरामद किया। बदमाशों ने उसकी पीट-पीट कर और फंदा लगा कर हत्या कर दी थी। मृतक की मां सरस्वती देवी ने अज्ञात बदमाशों पर हत्या करने की एफआईआर दर्ज कराई। एफआईआर में पीड़िता ने कहा कि 28 जून की रात मेरे पुत्र को उसका दोस्त अमित कुमार बुला कर ले गया और इसके बाद वह लौट कर नहीं आया।

खबरें और भी हैं...