पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना को हराना है:एक चिकित्सक व सिपाही समेत 6 पॉजिटिव जिले में कुल संक्रमितों की संख्या हुई 497

बेगूसरायएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बलिया- सीलबंद एरिया में लोग कर रहे आवाजाही।
  • एक चिकित्सक व सिपाही समेत 6 पॉजिटिव जिले में कुल संक्रमितों की संख्या हुई 497
  • डीएम की अपील के बावजूद पूरे जिले में कहीं भी सामाजिक दूरी का ख्याल नहीं रखा जा रहा है

सामाजिक या निजी जगहों पर यदि कोई भी व्यक्ति अब बिना मास्क के दिखे तो उसे 50 रुपए तक का जुर्माना भरना पड़ेगा। डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने इसको लेकर पूरे जिले के अधिकारियों को आदेश देकर तत्काल प्रभाव से इसे लागू भी कर दिया है। इसके साथ ही बेगूसराय में कोरोना से चिकित्सकों के संक्रमित होने का सिलसिला शुरु हो गया है। मिली जानकारी के अनुसार बलिया इलाके के एक चिकित्सक कोरोना पॉजीटिव हुए हैं। साथ ही एक चिकित्सक पुत्र के कोरोना पॉजीटिव होने की जानकारी मिली है। रिपोर्ट को पुष्ट करने के लिए सैंपल पटना भेजा गया है। वहीं शनिवार को भी जिले में कोरोना के कुल छह मरीज मिले हैं। जिसमें से एक चिकित्सक के परिजन के अलावे एक सिपाही भी शामिल है। हालांकि इसकी विभागीय पुष्टि शनिवार की देर रात तक नहीं की गई थी। वहीं तीन दिन पहले मिले कोरोना पॉजिटिव में सदर अस्पताल के एक चिकित्सक हैं। जिन्हें अस्तपताल में ही आइसोलेट किया गया है।
मालूम हो कि जिले में कोरोना का ट्रांसमिशन लगातार हो रहा है। अब यह तय नहीं है कि कब कौन और किस तरह कोरोना के संक्रमण का शिकार हो जा सकता है। डीएम के लगातार अपील के बावजूद पूरे जिले में ना तो कहीं भी सामाजिक दूरी का ख्याल रखा जा रहा है ना ही मास्क लगाया जा रहा है। लेकिन अब समझाने की बजाय ऐसे लोगों को दंडित किया जाएगा।
धारा 188 के तहत कार्रवाई होगी
प्रधान सचिव स्वास्थ्य विभाग के निर्देश के बाद डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने शनिवार को इसको लेकर आदेश जारी किया है। उन्होंनें बताया कि कोविड-19 के नियमों का उल्लंघन अब दंडनीय होगा। नए नियम के तहत कोविड-19 के नियम का उल्लंघन करने पर वैसे व्यक्ति के खिलाफ धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी। उन्होंनें कहा कि अब सार्वजनिक या कार्य स्थल पर फेस मास्क या फेस कवर नहीं पहने वाले किसी भी व्यक्ति को 50 रुपए का जुर्माना देना होगा। डीएम ने अधिकारियों को इस संबंध में आदेश दिया है कि वे अपने-अपने अधिकार क्षेत्र में फेस मास्क या कवर नहीं पहनने वाले व्यक्ति को दंडित करें। जिले के एडीएम, डीडीसी, अपर समाहर्ता व डीएसपी मुख्यालय को जिम्मेदारी दी गई है। एसडीओ/ भूमि सुधार उप समाहर्ता, अपर अनुमंडल पदाधिकारी/डीएसपी को अपने-अपने अनुमंडल क्षेत्र की जिम्मेदारी दी गई है। 

फिलहाल 97 मरीज एक्टिव हैं
जिला में शनिवार को बीस संक्रमित मरीज ठीक हो गए हैं, जिन्हें स्वास्थ्य विभाग की टीम ने इंजीनियरिंग कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड से घर भेज दिया है। इसमें वीरपुर के पांच, सदर प्रखंड के छह, तेघड़ा, साहेबपुरकमाल और नावकोठी प्रखंड के दो-दो और बलिया, बखरी व मटिहानी के एक-एक मरीज ठीक हुए हैं। इसके साथ ही बलिया के एक संक्रमित मरीज को पटना एनएमसीएच रेफर किया गया है। सूत्रों के मुताबिक सदर अस्पताल में शनिवार को 15 सैंपल लिया गया। वहीं अन्य प्रखंडों में सैंपल नहीं लिया गया है। जिले में 497 लोग संक्रमित हैं। 396 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। जबकि 97 लोग अब भी इलाजरत हैं। वहीं अबतक रि-सैंपल सहित कुल नौ हजार 862 सैंपल को जांच के लिए भेजा गया है। जिसमें से नौ हजार 609 सैंपल की जांच रिपोर्ट आ चुकी है। वहीं नौ हजार 118 सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव आई है।

बलिया में सील एरिया से लोग कर रहे आवाजाही

बलिया | बलिया में कोरोना संक्रमण का मामला दिनों दिन बढ़ते जा रहे हैं। शहर से लेकर गांव तक कोरोना वायरस दर्जनों लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है। इस रोग से बलिया में एक युवक की जान भी जा चुकी है। फलस्वरुप कोरोना संक्रमण के अनजान खतरे से गांव से लेकर शहर तक के लोग दहशत में हैं। 
हालांकि कोरोना संक्रमित इलाकों को स्थानीय प्रशासन द्वारा सील बंद भी कर दिया गया है। बावजूद कंटेंटमेंट जोन के सुरक्षा मानकों का पालन स्थानीय लोगों द्वारा नहीं किया जा रहा है और न तो स्थानीय प्रशासन ही इस दिशा में गंभीर है। यदि ऐसी ही स्थिति बनी रही तो बलिया में कोरोना संक्रमण दिनों दिन बढ़ते ही चले जाएंगे। विभागीय सूत्र से मिली जानकारी के अनुसार, प्रखंड क्षेत्र के सालेहचक पंचायत स्थित हुसैना गांव, नुरजमापुर पंचायत के अंबेदकर नगर, बलिया नगर पंचायत के वार्ड नंबर 2, 9,11, 12 एवं 13 में कोरोना पॉजिटिव के मामला आने पर उसे सील बंद कर दिया गया है।

मानकों का पालन नहीं होने से स्थानीय लोगों में है काफी नाराजगी

सील बंद एरिया से लोगों का आना-जाना लगा हुआ है। विभागीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, कंटेंटमेंट जोन में रहने वाले लोगों को सीलबंद एरिया से बाहर नहीं जाना है। साथ ही बाहर वाले को भी सीलबंद एरिया में प्रवेश नहीं करना है। ताकि संक्रमण का खतरा उत्पन्न ना हो सके। वहीं कंटेनमेंट जोन में जितनी भी दुकानें हैं वह भी बंद रहेंगे। सुरक्षा की व्यवस्था रहनी चाहिए। लेकिन सुरक्षा के मानकों का नहीं के बराबर पालन किया जा रहा है। फलस्वरुप कंटेनमेंट जोन के सुरक्षा मानकों का पालन नहीं होने से स्थानीय लोगों में काफी नाराजगी है। स्थानीय लोगों ने जिला प्रशासन से इस दिशा में आवश्यक एवं ठोस कदम उठाने की मांग की है। मिली जानकारी के अनुसार बलिया प्रखंड एवं नगर क्षेत्र में कोरोना संक्रमण के 58 मामले सामने आ चुके हैं। जिसमें 36 लोगों ने कोरोना पर विजय पा ली है। जबकि 22 लोगों का आज भी इलाज चल रहा है। वहीं इस संक्रमण से एक युवक की जान भी जा चुकी है।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज पिछली कुछ कमियों से सीख लेकर अपनी दिनचर्या में और बेहतर सुधार लाने की कोशिश करेंगे। जिसमें आप सफल भी होंगे। और इस तरह की कोशिश से लोगों के साथ संबंधों में आश्चर्यजनक सुधार आएगा। नेगेटिव-...

और पढ़ें