बेगूसराय में फुटपाथ पर चलता है ट्रैफिक थाना:नेशनल हाईवे पर बने इस थाने के बारे में लोगों को पता नहीं, 4 वर्षों में एक भी मामला दर्ज नहीं

बेगूसराय23 दिन पहलेलेखक: विभूति भूषण
  • कॉपी लिंक
एनएच-31 पर एस्बेस्टस के कॉटेज में है थाना, लोगों को पता नहीं। - Dainik Bhaskar
एनएच-31 पर एस्बेस्टस के कॉटेज में है थाना, लोगों को पता नहीं।

बेगूसराय में पिछले चार वर्षों से ट्रैफिक थाना है, लेकिन अचरज है कि अब तक यहां एक भी मुकदमा दर्ज नहीं हुआ है। होगा भी कैसे क्योंकि यह थाना कहां है जिले के अधिसंख्य लोगों को इसकी जानकारी तक नहीं है। ट्रैफिक थाना एसबेस्टस के कॉटेज में एनएच 31 किनारे फुटपाथ पर चलता है। यहां बड़े शहरों की तर्ज पर ट्रैफिक डीएसपी का पद भी है, लेकिन उनके काम करने के लिए कार्यालय नहीं है।

एसपी ऑफिस में जो कमरा ट्रैफिक डीएसपी के कामकाज के लिए है। फिलहाल वो सीसीटीवी मॉनिटरिंग कक्ष बना हुआ है। जहां से शहर भर की तीसरे आंख से निगहबानी की जाती है। आलम है कि ट्रैफिक डीएसपी के अधीन ट्रैफिक थानाध्यक्ष का भी पद सृजित है, लेकिन अबतक किसी की नियुक्ति या प्रतिनियुक्ति नहीं की गई है।

वहीं बेगूसराय के एसपी अवकाश कुमार कहते हैं कि ट्रैफिक थाना अगले साल नए भवन में शिफ्ट हो जाएगा। साथ ही जिले को 320 नए सिपाही मिले हैं। इन्हीं सिपाहियों में से कुछ का चयन ट्रैफिक पुलिस के लिए किया जाएगा।

डीएसपी समेत 165 पद सृजित, 1 डीएसपी व एएसआई के अलावा सभी पद खाली
ट्रैफिक थाना में एक डीएसपी, एक इंस्पेक्टर, 8 दारोगा, एक स्टेनो दारोगा, 30 हवलदार, 120 सिपाही और चालक सिपाही के 4 पद हैं। लेकिन बेगूसराय ट्रैफिक थाना में इसके विपरीत मात्र एक डीएसपी, एक एएसआई और एक पीटीसी सिपाही तैनात है।

पिछले दो माह से एएसआई ट्रैफिक थाना के इंचार्ज बने हुए हैं। 120 सिपाही के बदले होमगार्ड के 23 जवानों को विभिन्न चौक-चौराहों पर तैनात कर दिया जाता है। ट्रैफिक थाना में चार वर्षों से एक भी एफआईआर नहीं लिखी गई है।