पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बिजली कंपनी का दावा फेल:बारिश और हल्की हवा में टूट रहे हैं तार, उड़े रहे हैं इंसुलेटर, बिजली गुल

बेगूसरायएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मेंटेनेंस के नाम पर लगातार काटी गई बिजली, लेकिन मानसून और गर्मी के मौसम में लोगों को नहीं मिली निर्वाध बिजली
Advertisement
Advertisement

बिजली कंपनी विद्युत आपूर्ति में सुधार कर स्थायी और गुणवत्तापूर्ण विधुत आपूर्ति सुनिश्चित करने का दावा हर वर्ष करती है, लेकिन मानसून और गर्मी के मौसम में दावा हवा-हवाई साबित हो जाती है और उपभोक्ता लो वोल्टेज और ब्लैक आउट से जुझते रहते हैं। जबकि इस बार ठंढ़ के मौसम में मेंटेनेस के नाम पर करीब 200 घंटे बिजली काटी गई। बावजूद हल्की बारिश और हवा में विद्युत आपूर्ति ठप हो जा रही है।
पूरे मानसून बिजली की समस्या झेलनी होगी
अगर आप बिजली कट और लो वोल्टेज से परेशान है तो आपको यह खबर जानना जरूरी है, क्योंकि इस पूरे मानसून में आपको बिजली की इस समस्या से जूझना पड़ेगा। क्योंकि शहर में लगे बिजली के पूराने तार इतने कमजोर हो चुके हैं कि बारिश के दौरान लगातार उससे विद्युत आपूर्ति जारी रखना खतरनाक हो जाता है। जर्जर हो चुके वायर से नियमित विद्युत आपूर्ति करने पर तार टूटकर गिर जाता है और इंसुलेटर भी उड़ जाता है। बात दिगर है कि बिजली कंपनी दावा करती है कि पुराने तार बदले जा रहे हैं। लेकिन जब बिजली आपूति चरमराती है तो रटा रटाया जवाब मिलता है तार जर्जर हैं। इन समस्याओं के बावजूद इन दिनों एनएच 31 पर फोरलेन बनने के कारण बिजली की पोल की शिफ्टिग की जा रही है। इस कारण नियमित बिजली आपूर्ति करने में बिजली कंपनी खुद को असमर्थ बता रही है।
जबतक तार अंडर कवर नहीं होगी तार टूटने और इंसुलेटर उड़ने की समस्या रहेगी 

लगातार बिजली कट और लो वोल्टेज की समस्या के बारे में जब कार्यपालक अभियंता किशोर कुमार सिंह से जानकारी ली गई तो उन्होंने  बताया कि इस मानसून में वज्रपात और अत्यधिक हवा के साथ बारिश होने के कारण वृक्ष के टहनी 33 केवी, 11 केवी  तार पर गिरने से तार टूट जाता है और इंसुलेटर उड़ जाता है। वहीं वज्रपात होने पर ट्रांस्फार्मर भी खराब हो रहा है। इस कारण नियमित बिजली आपूर्ति में बाधा उत्पन्न हो रही है। लेकिन बारिश और हवा नहीं चलने पर 20 से 22 घंटे बिजली आपूर्ति की जा रही है।

हालांकि लोहियानगर के राजन कुमार का कहना है कि लोहियानगर में बिजली कट से हमलोग परेशान हैं। थोड़ी भी हवा चलती है तो बिजली 2 से चार घंटे के लिए गायब हो जाती है। 16 से 18 घंटे बिजली मिलती है। कार्यपालक अभियंता ने बताया कि नियमित बिजली आपूर्ति में और सुधार के लिए हम लगातार प्रयासरत है। इसके लिए लोड के हिसाब से ट्रांसफार्मर की क्षमता बढ़ाई जा रही है और बिजली चोरी पर अंकुश लगाने के लिए पुराने खुले तार को कवर वायर में बदला जा रहा है।

शहर में चल रहा है कवर वायर लगाने का कार्य

परियोजना के कार्यपालक अभियंता मो. गुरफान ने बताया कि नगर निगम और नगर परिषद व पंचायत क्षेत्र में करीब 250 किलोमीटर बिजली के पूराने तार को बदलना है, अभी तक करीब 90 किलोमीटर तार बदला गया है। साथ ही बताया कि लोड कम करने के लिए शहरी क्षेत्र में 10  ट्रांसफार्मर लगाया गया। वहीं एग्रीकल्चर कनेक्शन के लिए 100 ट्रांस्फार्मर लगाया गया।
एनएच 31 पर जितने बिजली पोल है सभी हो रहा शिफ्ट

कार्यपालक अभियंता ने  बताया कि एनएच 31 पर जितने बिजली पोल है सभी को वहां से दूसरे जगह शिफ्ट किया जा रहा है। इस कारण मटिहानी पावर सब स्टेशन से जुड़े फीडरों में नियमित बिजली आपूर्ति नहीं की जा रही है। साथ ही बताया कि पोल स्थानांतरण के कारण टाउन में भी बिजली आपूर्ति बाधित होती है। नवनिर्मित लाखो पावर सब स्टेशन अभी पुरी से काम नहीं कर रहा है। 

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज वित्तीय स्थिति में सुधार आएगा। कुछ नया शुरू करने के लिए समय बहुत अनुकूल है। आपकी मेहनत व प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। विवाह योग्य लोगों के लिए किसी अच्छे रिश्ते संबंधित बातचीत शुर...

और पढ़ें

Advertisement