आक्रोश / ऐपवा के आह्वान पर महिलाओं ने दिया धरना, केंद्र सरकार पर लगाए आरोप; कहा- राहत के नाम ठग रही है मोदी सरकार

Women sit on Appva's call, accuse central government; Said- Modi government is cheating in the name of relief
X
Women sit on Appva's call, accuse central government; Said- Modi government is cheating in the name of relief

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 05:00 AM IST

बेगूसराय. ऐपवा के राष्ट्रव्यापी आह्वान पर विभिन्न मांगों के समर्थन में शुक्रवार को स्वयं सहायता समूह संघर्ष समिति और भाकपा माले नगर कमेटी द्वारा लोहिया नगर में धरना दिया गया। धरना का नेतृत्व कर रही मालती श्रीवास्तव ने कहा कि लॉकडाउन में पीएम नरेन्द्र मोदी द्वारा दिए गए 20 लाख करोड़ का राहत पैकेज देशवासियों का मुंह चिढ़ा रहा है। उन्होंने कहा कि देश की आधी-आबादी कर्ज के बोझ से दबी हुई है और मोदी सरकार सिर्फ लॉक डाउन का ढोंग कर महिलाओं को मरने के लिए छोड़ दिया है।

उन्होंने सरकार से मांग करते हुए कहा कि लघु उद्योग के लिए माइक्रो फाइनेंस कंपनियों द्वारा दिए गए कर्ज का भुगतान कर स्वयं सहायता समूह का कर्ज माफ करे, जीविका कार्यकर्ताओं को 15 रुपया मासिक मानदेय दे, कामकाजी महिलाओं को बिना ब्याज के ऋण दे। झोपड़पट्टी में आयोजित धरना में महिला नेत्री देशवती देवी ने कहा कि मोदी-नीतीश राज में आधी आबादी को नजरअंदाज कर ठगा जा रहा है। लॉक डाउन की आड़ में भाजपा विधानसभा चुनाव की तैयारी कर रही है। इससे साफ जाहिर होता है कि मोदी सरकार झूठ और फरेब की राजनीति कर रही है।

वक्ताओं ने कहा कि नीतीश कुमार घोषणा में माहिर हैं, काम कुछ नहीं करते हैं। राशन कार्ड से वंचित लोगों को न राशन कार्ड मिला न नगदी। धरना में सपना श्रीवास्तव, रीमा सिन्हा, रानी देवी, सुनयना देवी, रानी देवी, रेखा देवी, मधुबाला देवी, वसंती देवी, नीलम देवी, गुड़िया देवी, काजू देवी, मुन्नी देवी, संगीत देवी, जैनुल खातून मौजूद थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना