पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आनलाइन प्रेरणा सत्र:आप अपने परीक्षक खुद बनें तभी आप हो सकते हैं दक्ष,इग्नू के आनलाइन प्रेरणा सत्र में बोले क्षेत्रीय निदेशक

बेगूसराय9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

इग्नू से जुड़ने के बाद आप अपना परीक्षक खुद बनें तभी आप अपनी योग्यता का मूल्यांकन कर सकते हैं। ये बातें जीडी कॉलेज स्थित इग्नू 550 केन्द्र के आनलाइन प्रेरणा सत्र में वरीय क्षेत्रीय निदेशक प्रो शंभु शरण सिंह ने कही। उन्होंने कहा कि इग्नू जन-जन का विश्वविद्यालय है, इग्नू ने जन अपेक्षाओं के साथ लर्नर को ध्यान में रखकर अपने पाठ्यक्रमों को तैयार किया है।

उन्होंने जनवरी 2021 सत्र के लर्नर को संबोधित करते हुए कहा कि जब आपके हाथ में इग्नू का मेटेरियल जाता है तो, आप उसका अध्ययन भी करें ना कि इस भरोसे रहें कि यह दूरस्थ शिक्षा है और इसमें कोई गुंजाइश है। उन्होंने साफ शब्दों में कहा की इग्नू अपने लर्नर को पढ़ना सिखाती है और इग्नू के लर्नर को पढ़ना होगा।

उच्च शिक्षा के क्षेत्र में इग्नू आज भी विश्व की सबसे विश्वसनीय संस्था
सहायक निदेशक डॉ राजीव कुमार ने कहा कि इग्नू ने इस कोरोना काल में भी लर्नर से जुड़ने के लिए पठन-पाठन का दौर जारी रखा है। उच्च शिक्षा के क्षेत्र में इग्नू आज भी विश्व की सबसे विश्वसनीय संस्था है। मौके पर स्वागत भाषण करते हुए इग्नू अध्ययन केंद्र जीडी कॉलेज के समन्वयक प्रो कमलेश कुमार ने कहा कि इग्नू विश्व की सबसे बड़ी अध्ययन की संस्था है, यह आज ग्लोबल यूनिवर्सिटी का रूप ले चुका है। इसके साथ जुड़कर हमें और बेहतर बनने की आवश्यकता है।
इग्नू अपने छात्रों के साथ एक बेहतर समन्वय स्थापित करे
प्रेरणा सत्र की अध्यक्षता करते हुए प्रधानाचार्य डॉ राम अवधेश कुमार ने कहा इग्नू अपने छात्रों के साथ एक बेहतर समन्वय स्थापित करे और लर्नर को सही समय पर शिक्षण सामग्री मिल जाए इसके लिए संकल्प ले, ताकि वह अपनी बेहतर तैयारी कर सकें। धन्यवाद ज्ञापन इग्नू केन्द्र के सहायक समन्वयक डॉ शशिकांत पांडेय ने किया। मौके पर लर्नरों ने क्षेत्रीय सहायक निदेशक से प्रश्नोत्तर के माध्यम से जानकारी भी प्राप्त की। मौके पर महाशंकर वर्मा, चंदन कुमार, मुकेश कुमार, विपिन कुमार, कौशिकी, नितिन समेत अन्य उपस्थित थे ।

खबरें और भी हैं...