सफलता:भभुआ में घर के तहखाने में छुपाया गया था 1 करोड़ का गांजा, मां-बेटा समेत 3 तस्कर हुए गिरफ्तार

भभुआएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • नोट गिनने की मशीन, गांजे की पुड़िया बनाने वाली मशीन, एक बाइक और 4 मोबाइल के अलावा कई उपकरण पुलिस ने किया बरामद

कैमूर पुलिस को यह सफलता जिले में गांजा तस्करों के विरुद्ध चलाये गए स्पेशल ड्राइव ऑपरेशन के क्रम में मिली है। एसपी दिलनवाज अहमद ने बताया है कि बीते शनिवार को विशेष अभियान के दौरान दुर्गावती कर्मसाना बॉर्डर पर एक टीम सादे लिबास में लगाई गई थी। इस बीच सूचना मिली थी कि एक व्यक्ति नौबतपुर और दुर्गावती बॉर्डर पर गांजा का अवैध कारोबार करने वाले राजकुमार गुप्ता जो कई बार गांजा के कांडों में जेल जा चुका है को गांजा सप्लाई करने के लिए जा रहा है। तब पुलिस द्वारा घेराबंदी कर उमेश कुमार पिता कुंवर साह को पकड़ा गया। जिसके पास से 5 किलोग्राम गांजा बरामद किया गया।
बीते 14 जुलाई को भी 25 लाख का गांजा पुलिस ने किया था जब्त
गांजा तस्करों के विरुद्ध चलाये गए स्पेशल ड्राइव ऑपरेशन के क्रम में चैनपुर थाना अंतर्गत अवखरा मोड़ पर पुलिस को बीते 14 जुलाई बड़ी सफलता हाथ लगी थी। थाना पुलिस ने जमशेदपुर की एक मारुति 800 कार से करीब 25लाख का गांजा जब्त किया था। इस दौरान चालक गाड़ी छोड़कर भाग गया था। थाना पुलिस ने वाहन की जांच की तो उसके अंदर से बड़ी मात्रा में प्लास्टिक के टेप से सील कर पैक किया हुआ करीब 208 किलोग्राम गांजा बरामद हुआ। बरामद गांजा कुल 66 पैकेट में पैक किया हुआ था।

उधर, गांजा तस्करी के मामले में बीते 31 जुलाई को विकास कुमार भगवानपुर, समीर भभुआ वार्ड नंबर 22, शकीब अंसारी वार्ड नंबर 22, शकील खां ग्राम बियूर चैनपुर को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। उस समय सत्यापन में माल का मुख्य सरगना ढुखंती साह उर्फ रामपति वार्ड नंबर 2 भभुआ वर्तमान पता हाटा बाजार चैनपुर के गोदाम से निकाला हुआ पाया गया था, लेकिन सत्यापन में विलंब होने के कारण जब हाटा में छापेमारी की गई तो अधिकांश गांजा वहां से हटा दिया गया था।
उमेश की निशानदेही पर मालकिन नाम की महिला तस्कर तक पहुंची पुलिस

पुलिसिया पूछताछ के दौरान बीते दिनों पुलिस के हत्थे चढ़े उमेश ने बताया गया कि वह मात्र 1000 प्रति खेप की दर से गांजा पहुंचाने का काम करता है। मुख्य सरगना बबलू साह उर्फ सुनील कुमार पिता रामायण साह ग्राम दादर थाना मोहनिया का रहने वाला है. जिसका सत्यापन मोहनिया थाना से कराने पर पता चला कि जो अभी भी मोहनिया थाना कांड दर्ज है और वह फरार चल रहा है।

पकड़ाए उमेश कुमार से पूछताछ करने पर आगे बताया कि बबलू साह और चैनपुर थाना कांड संख्या में फरार आरोपी रामपति साह का माल है। जो भभुआ वार्ड नंबर 9 कहीं छुपा कर रखा हुआ है। वहां एक मालकिन नाम की महिला लाकर हम लोगों को माल देती है। इस सूचना और उसकी निशानदेही पर मालकिन के नाम की महिला का सत्यापन किया गया।

गांजा तस्करी में धराए आरोपी भेजे जा रहे हैं जेल

एक घर के तहखाने में 4 क्विंटल गांजा की खेप छुपाने वाले मां-बेटा समेत तीन तस्कर जेल भेजे जा रहे हैं। अन्य फरार आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। पुलिस की यह कार्रवाई जारी रहेगी। -दिलनवाज अहमद, एसपी, कैमूर

खबरें और भी हैं...