आयोजन / एसटीईटी रद्द करने के विरोध में अभाविप ने मनाया काला दिवस

X

  • कार्यकर्ताओं ने घरों में रहकर काली पट्टी लगाकर जताया विरोध

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

भभुआ. एसटीईटी परीक्षा रद्द करने के विरोध में अभाविप ने काली पट्टी बांधकर काला दिवस मनाया। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कैमूर इकाई के कार्यकर्ताओं ने परीक्षा रद्द किए जाने की कड़ी आलोचना की है। बताया गया कि प्रदेश मंत्री लक्ष्मी रानी ने राज्यपाल मुख्यमंत्री उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री को पत्र लिखकर एसटीईटी परीक्षा रद्द होने पर पुनर्विचार के लिए पत्र लिखा है। अभाविप के विभाग प्रमुख मोनू गिरि ने कहा कि जब कोर्ट का फैसला 22 मई को आना था तो बिहार सरकार ने 16 मई को परीक्षा रद्द करने की घोषणा कैसे कर दी।

इस पर सरकार को जवाब देना होगा। विभाग संयोजक चंदन तिवारी ने कहा कि जिस सेंटर पर अभ्यर्थी परीक्षा का बहिष्कार किए या देर से जाने पर गेट लॉक कर दिया गया। उन सेंटरों पर पुनः परीक्षा फरवरी में ही ले ली गई थी। इसके बावजूद परीक्षा को रद्द किया जाना सरकार की मंशा पर सवाल खड़े करता है। जिला संयोजक अभय द्विवेदी ने कहा कि बिहार की शिक्षा व्यवस्था भ्रष्ट तंत्र के आगे नतमस्तक हो गई है।

जिसका परिणाम है कि लाखों युवाओं का भविष्य के परवाह किए बिना परीक्षा रद्द करने का आत्मघाती निर्णय लिया गया। 8 साल बाद यह परीक्षा होनी थी। इसके लिए ढाई लाख से अधिक अभ्यर्थियों ने आवेदन दिया था। इसके विरोध में अभाविप के कार्यकर्ताओं ने अपने अपने घरों पर रहकर सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए काली पट्टी बांधकर काला दिवस मनाया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना