शपथ पत्र:हर सत्र के लिए कॉलेज के छात्रों को देना होगा रैगिंगरोधी शपथ पत्र

भभुआ22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

प्रत्येक शैक्षणिक सत्र के लिए कॉलेज में नामांकन लेने वाले छात्रों को रैगिंगरोधी शपथ पत्र भरना होगा। यह शपथ पत्र विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की ओर से रैगिंग रोकने के लिए विकसित पोर्टल पर ऑनलाइन भरना होगा। यूनिवर्सिटी को भी इस आदेश का पालन करना होगा। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की ओर से इस को लेकर सभी कॉलेज के प्राचार्य और विश्वविद्यालय के कुलपति को निर्देश दिया गया है।विवि अनुदान आयोग की ओर से जारी किए गए वेबसाइट पर विद्यार्थी अपने शैक्षणिक सत्र का विवरण भरेंगे।

सभी नियम और शर्तों को ध्यान पूर्वक पढ़ने के बाद अपनी सहमति देंगे कि वे और उनके माता-पिता ने रैगिंग को रोकने को लेकर सभी नियमों को समझ लिया है। इसके अलावा वे किसी भी प्रकार के रैगिंग की गतिविधि में शामिल नहीं होंगे। इस प्रक्रिया के पूरा होते ही एक रजिस्ट्रेशन नंबर और वेब लिंक संबंधित विद्यार्थी के ईमेल पर भेजा जाएगा। छात्र इस लिंक को कॉपी कर अपने कालेज व विवि के नोडल पदाधिकारी के ईमेल पर इस लिंक को भेजेंगे। नोडल पदाधिकारी उस लिंक के माध्यम से यह स्वस्थ हो लेंगे कि संबंधित विद्यार्थी ने शपथ पत्र भर लिया है।

कॉलेजों में रैगिंग रोकने के लिए उठाया गया कदम
कॉलेजों में रैगिंग को रोकने के लिए यूजीसी ने इसके लिए दिशानिर्देश जारी किया है। विश्वविद्यालय को दिए गए निर्देश में कहा गया है कि रैगिंग विरोधी नोडल पदाधिकारी का मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी को संस्थान के वेबसाईट और परिसर में पोस्टर के माध्यम से प्रदर्शित किया जाए। इसके अलावा कैंटीन, पुस्तकालय,छात्रावास, प्रवेश केंद्र और अन्य सार्वजनिक जगहों पर पोस्टर और बैनर के माध्यम से इसका प्रचार प्रसार किया जाए।

खबरें और भी हैं...