महामारी:कोरोना ने युवक व तीन वृद्ध समेत चार की ली जान, 85 लोग हुए स्वस्थ, 66 नए संक्रमित मिले

भभुआ6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना गाइडलाइन का पालन कराने के लिए सड़क पर उतरे अधिकारी - Dainik Bhaskar
कोरोना गाइडलाइन का पालन कराने के लिए सड़क पर उतरे अधिकारी
  • संक्रमण से पिछले 24 घंटे में चार लोगों की मौत होने के बाद कोरोना से मृतकों की जिले में संख्या पहुंची 37
  • अब जिले में कोरोना के कुल एक्टिव मरीजों की संख्या पहुंची 707, कुल पॉजिटिव की संख्या 3269 हुई
  • जिला प्रशासन की अपील- घरों से बाहर निकलने पर नाक-मुंह मास्क से ढके नहीं तो पूरे शरीर को ढकने की आ सकती है नौबत

कोरोना ने रामगढ़ इलाके के रहने वाले एक 28 वर्षीय युवक व भभुआ इलाके के सोनडीहरा इलाके के 65 वर्षीय वृद्ध, मोहनिया इलाके के 50 वर्षीय अधेड़ और नुआंव इलाके के 70 वर्षीय वृद्ध समेत चार लोगों की जान ले ली। इसकी पुष्टि अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी सह प्रभारी सिविल सर्जन डॉ मीना कुमारी ने की है। स्वास्थ्य महकमा से मिली जानकारी के मुताबिक कोरोना संक्रमित चारों मरीजों की मौत इलाज़ के दौरान सदर अस्पताल के ऊपरी तल पर स्थित कोविड सेंटर में हो गई।इधर, वैश्विक महामारी कोरोना से संक्रमित 85 पॉजिटिव मरीज स्वस्थ हुए हैं।

जिन्हें स्वास्थ्य महकमा ने अगले कुछ दिनों तक एहतियातन होम आइसोलेशन में रहने की नसीहत दी है। स्वास्थ्य महकमा से मिली रिपोर्ट के अनुसार गुरुवार को जिला मुख्यालय भभुआ स्थित सदर अस्पताल समेत सभी प्रखंडों में स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, अनुमंडलीय अस्पताल मोहनिया और रेफरल अस्पताल रामगढ़ व अधौरा को मिलाकर कुल 1511 संदिग्धों की सैम्पल लेकर की गई कोरोना जांच में कुल 66 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। उधर, स्वास्थ्य महकमा से मिले रिपोर्ट बताते हैं कि कोरोना से पिछले 24 घंटे में चार लोगों की जान गंवाने के बाद कोरोना से मृतकों की जिले में संख्या अब 37 पहुंच गई है। इधर, जिले में कोरोना संक्रमण के प्रसार को देखते हुये जिला प्रशासन और स्वास्थ्य महकमा ने आमजनों को सतर्क रहने की नसीहत दी है।

एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 707

स्वास्थ्य महकमे के रिपोर्ट के मुताबिक अब जिले में कोरोना के कुल एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 707 पहुंच गई है। इधर, प्रशासन की अपील है कि आमजन सतर्क रहें, सावधान रहें, सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखें नही तो मुश्किलें और भी बढ़ेंगी। लेकिन बहुतेरे ऐसे लापरवाह ऐसे हैं, जो जिले में कोरोना के बढ़ते प्रसार के बावजूद बेपरवाह दिख रहे हैं। ऐसा लगता है जैसे उनमें तनिक भी वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रसार के चपेट में आने का जरा भी डर भय नहीं है। लेकिन शायद उनकी यही लापरवाही बड़ी मुश्किल है खड़ा कर सकती हैं।

जिले में गुरुवार को 85 पॉजिटिव मरीजों ने जीती कोरोना की जंग
गुरुवार को स्वास्थ महकमा से जो रिपोर्ट सामने आई है, इनमें से कोरोना के एक्टिव मरीजों में से गुरुवार को कुल 85 कोरोना संक्रमित मरीजों को स्वास्थ्य टीम ने डिस्चार्ज कर दिया है।

596 होम आइसुलेशन और 101 भभुआ-मोहनिया के आइसुलेशन सेंटर में भर्ती, 6 संक्रमित पटना रेफर

जिले में अब कुल कोरोना के एक्टिव मरीजों में से 596 होम आइसुलेशन और 101 भभुआ-मोहनिया के आइसुलेशन सेंटर में भर्ती हैं। इसकी पुष्टि सदर अस्पताल के इम्यूनाइजेशन पदाधिकारी मधुसूदन कुमार ने करते हुए बताया है कि जिले में कोरोना पॉज़िटिव मरीजों में शामिल 596 मरीजों का इलाज़ होम आईसुलेशन में जबकि 6 मरीजों का पटना,भभुआ क्षेत्र में सदर अस्पताल स्थित कोविड सेंटर और प्रेस भवन स्थित जिला आइसुलेशन में 70 वहीं मोहनिया इलाके में 25 कोरोना मरीजों का इलाज़ बनाये गए आइसुलेशन सेंटर में और 6 का इलाज़ रीना देवी मेमोरियल अस्पताल मोहनिया में भर्ती कर चल रहा है।जिले में अब कुल कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 3269 पहुंच गई है। हालांकि इनमें से अब तक कुल 2557 कोरोनावायरस मरीजों को स्वास्थ्य महकमा की टीम डिस्चार्ज कर चुकी है।

प्रशासनिक सख्ती के बाद लोग हो रहे लापरवाह, नहीं लगा रहे मास्क
इधर,जिला प्रशासन की जिले वासियों से अपील है कि आमजन घरों से बाहर निकलने पर अनिवार्य तौर पर नाक-मुंह मास्क से ढके नहीं तो पूरे शरीर को ढकने की नौबत आ सकती है। दरअसल पूरे जिले में वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण कहर ढा रहा है उधर, अधिकांशतः जिलेवासी बेपरवाह ही दिख रहे हैं। जहां तक एक बात यह भी सच है कि लोगों को जरुरत के सामानों की खरीद के लिए घरों से बाहर निकालना ही पड़ रहा है।

खांसी और बुखार होने पर मरीज सीधे पहुंचे सरकारी अस्पताल
स्वास्थ्य महकमा की नसीहत है कि 5 दिन से अधिक सर्दी, खांसी और बुखार होने पर मरीज सीधे सदर अस्पताल, अनुमंडल अस्पताल और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे और निः संकोच कोरोना वायरस की जांच कराएं। रिपोर्ट मिलने के बाद डॉक्टरों के परामर्श पर दवा लें। बता दें कि जिले में इन दिनों अधिकांश आबादी सर्दी खांसी और बुखार से ग्रसित हो रहे हैं, इस बीच वे बगैर जांच कराएं कई दिनों तक दवा का सेवन कर रहे हैं।

गुरुवार को 400 लोगों का हुआ वैक्सिनेशन
जानकारी गुरुवार को जिला मुख्यालय भभुआ समेत जिले के सभी प्राथमिक स्वास्थ केंद्र को मिलाकर कुल 400 लोगों का वैक्सिनेशन किया गया। इस तरह से जिले में अब तक 105484 लोगों ने कोरोना वैक्सिनेशन कराया है। स्वास्थ्य महकमा लगातार लोगों को कोरोनावायरस का टीका लगवाने के लिए जागरूक करते हुए प्रेरित कर रहा है। बता दें कि स्वास्थ्य महकमा अब तक 566168 संदिग्धों का सैंपल लेकर कोरोनावायरस जांच कर चुका है।

खबरें और भी हैं...