बेलगाम कोरोना:कोरोना से दो महिला समेत तीन की गई जान रिकाॅर्ड 116 हुए स्वस्थ, 99 मिले नए संक्रमित

भभुआ6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अब जिले में एक्टिव कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या पहुंची 728, अब तक कोरोना से गई कुल 33 लोगों की जान

कोरोना संक्रमित कुल एक्टिव मरीजों में से 614 होम आइसोलेशन में इलाजरत जबकि 102 भभुआ और मोहनिया के आइसोलेशन सेंटर वहीं 6 मरीज हैं पटना रेफर

कैमूर में कोरोना से संक्रमित दो महिला समेत तीन लोगों की मौत हो गई। इसकी पुष्टि अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ.मीना कुमारी ने की है। कोरोना से जान गवा बैठने वालों में एक अधेड़ महिला व पुरुष मोहनिया प्रखंड इलाके के जबकि तीसरी महिला केशवपुर इलाके की करीब 50 वर्षीया बताई गई है। इस तरह से जिले में अब तक कोरोना से जान गंवा बैठने वालों की संख्या 33 पहुंच गई है।इधर,जिले में तेजी के साथ वैश्विक महामारी कोरोनावायरस के प्रसार के बीच बुधवार को 99 नए संक्रमित मरीज मिले हैं। स्वास्थ्य महकमा से मिली जानकारी के मुताबिक जिले में अब तक कोरोना के संदिग्ध 564657 लोगों की जांच की जा चुकी है। उधर जिले में कोरोना के बढ़ते प्रसार के मद्देनजर शासन-प्रशासन का कहना है कि लगातार जिलेवासियों की दी जा रही चेतावनी के बाद आमजन सतर्क हो जाएं तो सावधानी और सुरक्षात्मक पहल करते हुए जिलेवासी मिलकर कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर काबू पा सकते हैं।
अब जिले में एक्टिव कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 728 पहुंची : बढ़ते प्रसार के बीच अब जिले में एक्टिव कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 728 पहुंची है। इधर, जिला प्रशासन और स्वास्थ्य महकमा चेता रहा है कि आमजन सतर्कता बरतें,क्योंकि अब जिले में कोरोना संक्रमित कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 3203 पहुंच गई है। दरअसल बुधवार को जिला मुख्यालय स्थित सदर अस्पताल अनुमंडलीय अस्पताल और सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में कुल 1537 संदिग्धों का सैम्पल लेकर कोरोना जांच की गई। जिसमें से 99 संक्रमित मिले।

शासन-प्रशासन की नसीहत- सतर्क हो जाएं आमजन तो सुरक्षात्मक पहल करते हुए हरा सकते हैं काेरोना को

महामारी कोरोना संक्रमण कहर ढा रहा है
कोरोना संक्रमण कहर ढा रहा है उधर, अधिकांशतः जिलेवासी बेपरवाह ही दिख रहे हैं। जहां तक एक बात यह भी सच है कि लोगों को जरुरत के सामानों की खरीद के लिए घरों से बाहर निकालना ही पड़ रहा है, बाज़ारों में लोग सोशल डिस्टेन्सिंग के साथ सर्तकता नहीं रख रहे। उन्हें ऐसा लग रहा है कि कोरोना अब खत्म हो गया है,लेकिन आमजन पता नहीं यह क्यूँ नहीं समझ पा या फिर लोगों को समझा पा रहे कि है वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण का फिलहाल उपचार बस सोशल डिस्टेन्सिंग व चेहरे पर मास्क लगाकर ही किया जा सकता है।

परिवार और समाज को बचाने के लिए सतर्क रहें, सावधान रहें
जिला प्रशासन सब कुछ कोरोना के बढ़ते प्रसार को रोकने की दिशा में कर रहा है।जिला प्रशासन की आमजनों से अपील है कि वे इस महामारी से खुद, परिवार और समाज को बचाने के लिए सतर्क रहें, सावधान रहें। हर हाल में मास्क का प्रयोग करें। घरों में भी सोशल डिस्टेन्सिंग रखें। बगैर अति आवश्यक
कार्य के बाहर न निकलें। वैश्विक महामारी पर काबू पाने के लिए सबसे बड़ा उपाय बचाव है।
नवदीप शुक्ला जिलाधिकारी,कैमूर

स्वस्थ होने वाले मरीजों को कुछ दिनों तक होम आईसुलेशन में बेड रेस्ट में रहने की सलाह

सदर अस्पताल के स्वास्थ्य प्रबन्धक ऋषिकेश जायसवाल ने बताया है कि जिले में कोरोना पॉज़िटिव मरीजों में शामिल 614 मरीजों का इलाज़ होम आईसुलेशन में जबकि 71 भभुआ के प्रेस क्लब व सदर अस्पताल के आइसुलेशन सेंटर में वहीं 24 मोहनिया स्थित आइसुलेशन सेंटर में और 7 मरीज मोहनिया स्थित रीना देवी मेमोरियल अस्पताल में इलाजरत हैं वहीं छह मरीजों का इलाज़ पटना में चल रहा है। जिन कोरोना पॉज़िटिव मरीजों को स्वास्थ्य टीम ने डिस्चार्ज कर दिया है, उन्हें एहतियातन अगले कुछ दिनों तक होम आईसुलेशन में बेड रेस्ट में रहने की सलाह दी गई है।

खबरें और भी हैं...