छापेमारी:वाराणसी से बंगाल ले जाई जा रही पांच लाख की कफ सिरप मोहनिया में जब्त, दो गिरफ्तार

भभुआ5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मोहनियां थाना में जब्त कफ सिरप - Dainik Bhaskar
मोहनियां थाना में जब्त कफ सिरप
  • पिकअप के तहखाने में छुपाकर ले जा रहे थे आरोपी, उत्पाद विभाग एवं मोहनिया पुलिस ने की कार्रवाई

एक पिकअप के तहखाने में छुपाकर वाराणसी से बंगाल ले जाई जा रही 5 लाख की कफ सिरप मोहनिया में पुलिस ने जब्त किया है जबकि दो आरोपी भी गिरफ्तार किए गए हैं। दरसल जीटी रोड पर एक तरफ जहां शराब के कारोबारी शराब की तस्करी कर रहे हैं वहीं दूसरी तरफ इस कारोबार से ताल्लुक रखने वाले कारोबारी कफ सिरप को भी वाहनों में छिपाकर धड़ल्ले से गुजरते नजर आ रहे हैं। हालांकि शराब कारोबारियों को पकड़ने के लिए एंटी लिकर टास्क फोर्स, उत्पाद विभाग व पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है। कारोबारी शराब के साथ साथ कफ सिरप का भी जीटी रोड के रास्ते धड़ल्ले से वाहनों से तस्करी कर रहे हैं।जीटी रोड के रास्ते इन दिनों कफ सिरप की तस्करी बड़े पैमाने पर की जा रही है, लेकिन फिर भी कप पुलिस यदा-कदा कार्रवाई के दौरान कभी-कभी सिरप की तस्करी करने वाले तस्करों को पकड़ पा रही है।

सिरप के इस तस्करी में बड़े तस्करों तक पुलिस के नहीं पहुंच पा रहे हाथ

बड़ी बात तो यह है कि और सिरप के इस तस्करी में बड़े तस्करों तक हाथ पुलिस के नहीं पहुंच पा रही हैं। इसी कड़ी में सोमवार को उत्पाद विभाग व मोहनिया थाने की पुलिस ने रविवार की देर रात समेकित चेकपोस्ट पर शराब की चेकिंग करने के दौरान पिकअप के तहखाने में छुपाकर जीटी रोड के रास्ते वाराणसी से बंगाल ले जा रहे लाखों रुपए की कफ सिरप बरामद किया है। इस दौरान पुलिस ने पिकअप के चालक एवं खलासी को भी गिरफ्तार किया है। यह दौरान गिरफ्तार पिकअप चालक व खलासी द्वारा पुलिस को कफ सिरप से संबंधित कोई कागजात नहीं दिखाया गया है।गिरफ्तार चालक मुर्शिदाबाद जिले के कातलामारी गांव निवासी इमरान हुसैन व खलासी मुस्लिम शेख बताए जाते है।

कफ सिरप से संबंधित कोई भी कागजात नहीं दिखलाया
गिरफ्तार दोनों चालक और सह चालक द्वारा बरामद कफ सिरप से संबंधित एक कोई भी कागजात नहीं दिखलाया गया। जब पिकअप को पुलिस ने मोहनिया थाना में लाकर पिकअप से सिरप को निकाला और काउंटिंग की गई तो 100 एमएल के 102 पैकेट यानी 2550 पीस सिरप की शीशियां बताई गई है। बरामद सभी सिरप कोर्डिनयुक्त है। इसके बाद पुलिस ने पिकअप के चालकों से पूछताछ किया तो दोनों चालकों ने बताया कि वाराणसी के एक होटल से तस्कर द्वारा बताया गया कि पिकअप का चालक नहीं है इसलिए आप दोनों उस गाड़ी को निर्धारित जगह पर पहुंचा दें।

रास्ते में ही पुलिस की जांच के दौरान पकडा़ए दोनों
पिकअप को वाराणसी से आसनसोल ले जाने को बोला गया है। जहां से उसे एक व्यक्ति द्वारा किसी अन्य स्थान पर ले जाया जाता है। मोहनिया थाना अध्यक्ष ने बताया कि समेकित चेक पोस्ट पर उत्पाद विभाग व मोहनिया थाने की पुलिस द्वारा शराब की चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था, इसी दौरान पकड़े गए। ​​​​​​​

एक साल के अंदर तीसरी बार पकड़ी गई कफ सिरप
पिछले 1 वर्ष में मोहनिया पुलिस उत्पाद विभाग द्वारा समेकित चेक पोस्ट पर कप सिरप पकड़ा गया है। इससे पहले भी दो बार जो कफ सिरप पकड़ा गया था वह भी की कफ सिरप थी। ऐसा माना जा रहा है कि शराब कारोबारी कफ सिरप को नशे के तौर पर प्रयुक्त कर रहे हैं।यह तीसरा मौका था जब कफ सिरप को पुलिस ने पकड़ा। ​​​​​​​

खबरें और भी हैं...