योजना / स्कूलों में रखी ભાભાएमडीएम की सामग्री से बनेगा क्वारेंटाइन सेंटर में प्रवासियों के लिए भोजन

Food for migrants in quarantine center to be made from सेાભા MDM material kept in schools
X
Food for migrants in quarantine center to be made from सेાભા MDM material kept in schools

  • स्कूल के मिड डे मील की सामग्री को क्वारेंटाइन सेंटर पर भेजने का आदेश जारी
  • जिले के स्कूलों से लिए गए खाद्यान्न को वापस लौटाएगा जिला प्रशासन

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

भभुआ. स्कूल में रखे गए मिड डे मील की सामग्री का उपयोग प्रवासियों के भोजन के लिए किया जाएगा। मिड डे मील की सामग्री को क्वारेंटाइन सेंटर में भेजने का आदेश जारी किया गया है। अभी स्कूल में पहले से रखे गए मिड डे मील की सामग्री को क्वारेंटाइन सेंटर में प्रवासियों के लिए उपयोग किया जाएगा।

इस मामले में बिहार राज्य मध्यान भोजन योजना समिति के अपर मुख्य सचिव ने जिला अधिकारी और जिला शिक्षा पदाधिकारी को पत्र जारी करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिया है। जिसमें कहा गया है कि सरकारी एवं सरकारी सहायता प्राप्त विद्यालयों में मध्यान्ह भोजन योजना हेतु भंडारीत सामग्री का क्वारेंटाइन सेंटर में उपयोग किया जाए। 
कोविड-19 के संक्रमण के रोकथाम के लिए यह देशव्यापी लॉकडाउन के पहले जिले के विद्यालयों में मध्यान्ह भोजन योजना संचालित किए जाने के लिए खाद्यान्न का आवंटन किया जा चुका है। जिले के द्वारा राज्य खाद्य निगम के प्रखंड स्तरीय गोदाम से खाद्यान्न का उठाव कर विद्यालय में वितरण किया जा चुका है।

वर्तमान समय में लॉक डाउन के कारण सभी विद्यालयों में मध्यान्ह भोजन का संचालन बंद है। जिसके बाद क्वारेंटाइन सेंटर में प्रवासियों के लिए बेहतर भोजन का इंतजाम हो सके। इसके लिए स्कूल में भंडारित मिड डे मील सामग्री को क्वारेंटाइन सेंटर में भेजने का आदेश जारी किया गया है।
दूसरे स्कूलों की सामग्री का भी होगा उपयोग
इसके अलावा मध्यान्ह भोजन योजना के समतुल्य राशि बच्चों के बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम से हस्तांतरित की जा रही है। वर्तमान में जिले के कई विद्यालयों को क्वारेंटाइन सेंटर में उपयोग किया जा रहा है। जिसमें ठहरने वाले व्यक्तियों के लिए भोजन की व्यवस्था की जा रही है। इस मामले में निर्देश दिया गया है कि संचालित क्वारेंटाइन सेंटर पर विद्यालय में भंडारित खाद्यान्न का उपयोग किया जा सकता है। प्रखंड के अन्य विद्यालय से भंडारित खाद्यान्न भोजन बनाने हेतु उपयोग किया जा सकता है। प्रखंड क्षेत्र के अन्य विद्यालय जिनमें क्वॉरेंटाइन  सेंटर नहीं बनाया गया है। इन विद्यालयों के मिड डे मील सामग्री को जिन विद्यालयों में क्वारेंटाइन सेंटर बनाया गया है। उनमें इस्तेमाल किया जाएगा।
जिला प्रशासन करेगा खाद्यान्न की भारपाई
विद्यालय संचालन प्रारंभ होने पर विद्यालयों से लेकर उपयोग किए गए खाद्यान्न की प्रतिपूर्ति जिला प्रशासन के द्वारा विद्यालय को की जाएगी। जिला कार्यक्रम पदाधिकारी मध्यान भोजन का दायित्व होगा कि प्रत्येक विद्यालय से उपलब्ध कराए गए खाद्यान्न की प्राप्ति रसीद प्राप्त कर कार्यालय में इसका एक रजिस्टर बनाएंगे। विद्यालय संचालन प्रारंभ होने पर उपलब्ध कराए गए खाद्यान्न की मात्रा के बराबर जिला प्रशासन से खाद्यान्न प्राप्त करेंगे।
गाइडलाइन में होगी कार्यवाही
स्कूलों में बनाए गए क्वारेंटाइन सेंटर में मिड डे मील  की सामग्री भेजे जाने का निर्देश राज्य स्तर से प्राप्त हुआ है। जिसके आलोक में आगे की कार्यवाही की जाएगी। जिला स्तर पर इसके लिए स्कूल के प्रधानाध्यापकों को भी आवश्यक दिशा निर्देश दिया जा रहा है। -यदुवंश राम डीपीओ,एमडीएम

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना