नोडल पदाधिकारी नामांकन अभियान की करेंगे समीक्षा:नामांकन अभियान के लिए घरों का होगा सर्वेक्षण, विद्यालयस्तरीय दल का गठन

भभुआ9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • राज्य स्तर से नामित नोडल पदाधिकारी नामांकन अभियान की करेंगे समीक्षा
  • आज से सरकारी विद्यालयों में नामांकन अभियान की होगी शुरुआत

नामांकन अभियान के लिए घरों का सर्वेक्षण किया जाएगा।जिसके लिए विद्यालय स्तरीय दल का गठन किया गया है। दरअसल सरकार के दिशा निर्देश के आलोक में आज सोमवार से जिले में वर्ग 1 से 8 एवं 9 के छात्रों के नामांकन के लिए विशेष प्रवेशोत्सव अभियान चलाया जाएगा।

जिला शिक्षा पदाधिकारी सूर्य नारायण ने कहा कि नामांकन अभियान को लेकर अफसरों और कर्मियों को जिम्मेदारी सौंपी जा चुकी है। 8 मार्च से 20 मार्च तक जिले में नामांकन अभियान चलाया जाएगा। प्रखंड स्तर पर सभी बीआरपी,सीआरसीसी, प्रधानाध्यापक समेत शिक्षकों को भी नामांकन अभियान को लेकर दिशा निर्देश दिए जा चुके हैं।विशेष नामांकन अभियान का आयोजन जिले के सभी विद्यालय क्षेत्र में होगा। जिसमें अभियान चलाकर विद्यालयों में नामांकन कराया जाएगा।

इस दौरान मरकज के स्वयंसेवक, आंगनबाड़ी सेविका और जीविका दीदी की भागीदारी भी नामांकन अभियान में सुनिश्चित की जाएगी। नामांकन से पूर्व सभी विद्यालय के पोषक क्षेत्र के अंतर्गत सर्वेक्षण कर अनामांकित एवं स्कूल छोड़ चुके बच्चों को चिन्हित किया गया है। विद्यालयों में शत प्रतिशत बच्चों के नामांकन के लिए विभाग द्वारा रणनीति तैयार की जा चुकी है।

20 मार्च तक चलेगा नामांकन अभियान
प्रवेशोत्सव अभियान के दौरान सभी बच्चों का शत-प्रतिशत नामांकन लिया जाएगा। अनामांकित बच्चों को चिन्हित करने हेतु गृह वार सर्वेक्षण करने के लिए विद्यालय स्तरीय दल का गठन किया गया है। जिसमें विद्यालय के प्रधानाध्यापक आंगनबाड़ी सेविका और जीविका दीदी को शामिल किया गया है।

उक्त दल द्वारा सर्वेक्षण कर पत्र के साथ सूचना प्राप्त किया जाएगा। संकुल संसाधन समन्वयक महिला पर्यवेक्षिका बाल विकास परियोजना और सामुदायिक समन्वय जीविका की भी सहायता ली जाएगी। 20 मार्च तक नामांकन अभियान चलेगा।

खुशबू है फूल में और बच्चे हैं स्कूल में
विशेष नामांकन अभियान को लेकर व्यापक प्रचार-प्रसार भी किया जा रहा है।खुशबू है फूल में और बच्चे हैं स्कूल में कार्यक्रम की सफलता को लेकर जिला स्तर पर भी रणनीति बनाई जा चुकी है। विद्यालय के पोषक क्षेत्र में नामांकन अभियान को लेकर विशेष रणनीति बनाई गई है।

इसके अलावा राज्य स्तर से भी नामांकन अभियान को लेकर नोडल अफसर को नामित किया गया है। जिनके द्वारा नामांकन अभियान की समीक्षा की जाएगी। प्रखंड स्तर पर प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी को नोडल बनाया गया है। लॉक डाउन की वजह से विद्यालय छोड़ चुके बच्चों का भी नामांकन लिया जाएगा। नामांकन अभियान की समीक्षा को लेकर लेकर जिला शिक्षा पदाधिकारी ने जिला स्तर से भी सभी डीपीओ को प्रखंड वार जिम्मेदारी सौंपी है।

विशेष नामांकन अभियान को लेकर व्यापक प्रचार-प्रसार भी किया जा रहा है।खुशबू है फूल में और बच्चे हैं स्कूल में कार्यक्रम की सफलता को लेकर जिला स्तर पर भी रणनीति बनाई जा चुकी है। विद्यालय के पोषक क्षेत्र में नामांकन अभियान को लेकर विशेष रणनीति बनाई गई है।

इसके अलावा राज्य स्तर से भी नामांकन अभियान को लेकर नोडल अफसर को नामित किया गया है। जिनके द्वारा नामांकन अभियान की समीक्षा की जाएगी। प्रखंड स्तर पर प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी को नोडल बनाया गया है। लॉक डाउन की वजह से विद्यालय छोड़ चुके बच्चों का भी नामांकन लिया जाएगा। नामांकन अभियान की समीक्षा को लेकर लेकर जिला शिक्षा पदाधिकारी ने जिला स्तर से भी सभी डीपीओ को प्रखंड वार जिम्मेदारी सौंपी है।

खबरें और भी हैं...