पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रदर्शन:आईएमए ने चार घंटे बंद रखा ओपीडी, प्रदर्शन

भभुआएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदर्शन करते आईएमए के सदस्य। - Dainik Bhaskar
प्रदर्शन करते आईएमए के सदस्य।
  • कार्रवाई के लिए एसोसिएशन ने डीएम के माध्यम से पीएम के नाम मांगों का ज्ञापन सौंपा

योग गुरु स्वामी रामदेव के बयान से आधुनिक चिकित्सा पद्धति के डॉक्टरों में अभी रोष बरकरार है। इसके विरोध में एसोसिएशन ने सुबह 8:30 बजे से 12:30 बजे तक ओपीडी बंद रखा। सदर अस्पताल कला मास्क लगाकर प्रदर्शन किया। कहा कि बाबा रामदेव का बयान आधुनिक चिकित्सा पद्धति, इससे संबंधित चिकित्सकों के लिए अपमानजनक है। कार्रवाई के लिए एसोसिएशन ने डीएम के माध्यम से पीएम के नाम मांगों का ज्ञापन सौंपा।इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की जिला इकाई के अध्यक्ष व बिहार प्रदेश इकाई के संयुक्त सचिव डॉक्टर संतोष कुमार सिंह, सचिव डॉक्टर अरविंद कुमार द्विवेदी,भाषा के सचिव डॉ. विनोद कुमार सिंह व कई अन्य ने कहा है कि आधुनिक चिकित्सा पद्धति के डॉक्टरों को अब देवदूत कहने वाले स्वामी रामदेव अपराध मुक्त नहीं हो गए हैं। एसोसिएशन के सचिव डॉ. सुनील कुमार ने उनके बयान के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराया है। उनका बयान अपराध है। वहीं एसोसिएशन के चिकित्सकों ने चिकित्सकों की सुरक्षा के लिए गैर जमानतीय प्रावधान सहित केंद्रीय कानून बनाने की भी मांग की है।

रामदेव पर प्राथमिकी भी दर्ज कराई जा चुकी है
कहा कि स्वामी रामदेव का बयान आधुनिक चिकित्सा पद्धति के अलावे कोरोना टीकाकरण के खिलाफ है। उनके विरुद्ध सरकार राष्ट्रद्रोह का मुकदमा चलाए। ऐसा कृत्य देश सेवा में लगे हजार से अधिक आधुनिक चिकित्सा पद्धति के शहीद चिकित्सकों का भी अपमान है। क्योंकि उनके कृत्य से चिकित्सक आहत हुए हैं। उनके खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की गई है। एसोसिएशन ने कहा है कि केंद्र सरकाए चिकित्सकों की सुरक्षा के लिए विशेष कानून बनाए।

खबरें और भी हैं...