पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गौरव:भोजपुरी में कोरोना जागरूकता गीत गाकर सोशल साइट पर नाम कमा रही जलदहां की बेटी नेहा

भभुआएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • सोशल साइट पर नेहा राठौर के 3 मिलियन से अधिक प्रशंसक, ग्रामीण भी हौसला कर रहे अफजाई

(पीयूष कुमार) कैमूर के रामगढ़ में एक गांव है जलदहां। यहीं के रमेश सिंह की बेटी है नेहा सिंह राठौर। जो पिछले एक पखवाड़े से सोशल साइट पर हिट हो रही है। वह इसलिए कि नेहा वैश्विक महामारी कोरोना पर जागरूकता गीत गा रही है। वह भी भोजपुरी आवाज में। जिसके प्रशंसक आज की तारीख में 3 मिलियन से अधिक हो गए हैं। मसलन कोरोना जागरूकता पर नेहा की भोजपुरी गीत सोशल साइट पर धमाल मचा रही है। दरअसल कोरोना संक्रमण के फैलाव ने सरकार और आमजन की चिंता बढ़ा दी है।

फिर भी बहुतेरे लापरवाही कर रहे हैं। जिन्हें नेहा जागरूकता  गीत गाकर सचेत कर रही है। भास्कर टीम से बातचीत में नेहा बताती है कि सोशल मीडिया का अधिकांश लोग गलत प्रयोग करतें हैं, लेकिन अगर इसका सही प्रयोग किया जाए तो लोगों में जागरूकता भी बढ़ेगी। नेहा का पहला गीत जिससे आज वह सोशल मीडिया पर स्टार बनी हुई है उसके बोल हैं पटना से बैदा बुलाई दा नजारा गइनी गुईया, छोट की ननदिया है, बड़की सौतनिया ... । इसी गाने से नेहा राठौर पॉपुलर हुई। 

ग्रामीण बोले - नेहा को शादियों में गाते देखा है अब मोबाइल पर भी गाते देखकर गर्व महसूस होता है 
दैनिक भास्कर की टीम को ग्रामीणों ने बताया कि उन्हें यह जानकारी है कि गांव की नेहा गाना गाती है, लेकिन सोशल मीडिया क्या होता है उन्हें इसकी जानकारी नहीं। कहा कि नेहा को शादी विवाह में गाते हुए सुना है और अब उसे मोबाइल पर गाते हुए देखते हैं। ग्रामीणों ने कहा है कि नेहा लोगों को न सिर्फ कोरोना के प्रति जागरूक किया बल्कि गांव के लोगो को सोशल मीडिया की भी जानकारी दी है। सोशल साइट पर नेहा को मिल रहे कामयाबी पर ग्रामीणों ने भी उसे बधाइयाँ दी है।

खबरें और भी हैं...