सख्ती:परीक्षा अवधि के दौरान एक्टिवेट रहेगा जैमर, प्रश्नपत्र वायरल होने की घटना पर लगेगी रोक

भभुआ2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय से संबद्ध व अंगिभूत कॉलेजों में बने परीक्षा केंद्र पर अब परीक्षा के दौरान जैमर एक्टिवेट रहेगा। विश्वविद्यालय के किसी भी परीक्षा में अब केंद्रों पर मोबाइल की घंटी नहीं बजेगी।पीजी या स्नातक की वार्षिक परीक्षा में मोबाइल का इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा। दरअसल इस बारे में यूजीसी ने सभी परीक्षा केंद्रों पर जैमर लगाने का निर्देश वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय प्रशासन को दिया है।बता दें कि करीब दो साल पहले से सीसीटीवी की निगरानी में परीक्षा लेने का आदेश दिया गया था। सभी कॉलेजों में सीसीटीवी की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया है।

कई ऐसे कॉलेज भी है जहां सीसीटीवी की समुचित व्यवस्था नहीं हो पाई है।जिसके कारण परीक्षा की शुचिता पर सवाल उठने लगता है। प्रश्न पत्र वायरल होने की घटना होती रहती है। तीन साल पहले भी परीक्षा केंद्रों पर जैमर लगाने का पत्र जारी किया गया था। नियमानुसार जैमर लगाने के लिए सुरक्षा सचिव की अनुमति जरूरी होती है।इस प्रक्रिया का हवाला देकर यूनिवर्सिटी ने ही जैमर लगाने के पत्र को गंभीरता से नहीं लिया था।

परीक्षा के दौरान मोबाइल नहीं करेगा काम
वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय को पत्र भेजकर परीक्षा केंद्रों पर जैमर की व्यवस्था सुनिश्चित करने की बात कही गई है। परीक्षा केंद्रों पर जो जैमर लगाए जाएंगे वे सिर्फ परीक्षा अवधि के लिए ही एक्टिवेट रहेंगे।यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं तीन घंटे अवधि की रहती है। यानी इसी अवधि में किसी के मोबाइल पर नेटवर्क नहीं आएगा। परीक्षा खत्म होने के बाद नेटवर्क मिलने लगेगा। जिले के अधिकतर कॉलेजों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जा चुके हैं।जैमर को लेकर यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन की ओर से निर्देश दिए जा चुके हैं।

खबरें और भी हैं...