पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वैक्सीनेशन:टीकाकरण की रेस में कुदरा सबसे आगे, लक्ष्य 100 का था टीका लगा 180 को

भभुआ25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना संक्रमण पर जीत के लिए वैक्सीनेशन जरूरी है। इस कड़ी में प्रशासन आमजनों को जागरूक करने की दिशा में एक्टिव मोड में आ चुका है। लिहाजा लोग वैक्सीनेशन करा भी रहे हैं। रविवार को जिला स्वास्थ्य समिति से वैक्सीनेशन की जो रिपोर्ट मिली वे बताते हैं कि टीकाकरण की रेस में जिले का कुदरा प्रखंड सबसे आगे रहा। कारण कि यहां 100 लोगों के वैक्सीनेशन का लक्ष्य निर्धारित था, लेकिन यह बढ़-चढ़कर 180 लोगों ने कोरोनावायरस का टीका लिया।

हालांकि जिले के आधौरा प्रखंड में रविवार को कुल 100 लोगों के वैक्सीनेशन के लक्ष्य के अनुपात में 1 लोगों ने भी टीका नहीं लिया। उधर, जिले के रामपुर प्रखंड में 100 लोगों को कोरोनावायरस के टीके लेने थे, लेकिन महज 20 लोगों ने ही टिका लिया।

ऐसे में जिला प्रशासन सीधे वैक्सीनेशन की गति को धार देने की मुहिम में जुट गया है। डीएम नवदीप शुक्ला भी जिले में अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण हो इसके लिए मिशन मोड में रहने को अधिकारियों को एक्टिव रहने के लिए निर्देशित किए हैं। डीएम के आदेश पालन भी कर रहे हैं। रोज कई वरीय पदाधिकारी जिला मुख्यालय समेत प्रखंड स्तरों पर लगाए गए शिविरों और स्वास्थ्य केंद्रों पर पहुंचकर वैक्सीनेशन की स्थिति का जायजा ले रहे हैं।

कोरोना के लिए एक ही शस्त्र है वैक्सीनेशन
वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण जिले में अभी खत्म नहीं हुआ है, इसे जिले से हमेशा के लिए भगा देने के लिए एक ही शस्त्र है, और वह है वैक्सीनेशन। लिहाजा जिले की बड़ी आबादी में शामिल जिन्होनें अब तक वैक्सीन नही लिया है बेहिचक ले लें। क्योंकि इसी से कोरोना की जंग जीती जा सकती है। दरअसल कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए जिला प्रशासन और स्वास्थ्य महकमा कई अवसरों पर एक साथ फोकस कर रहा है।इसके लिए अब जिले में वैक्सीनेशन सेंटर की संख्या को और बढ़ाया जा सकता है।

जितनी अधिक टीकाकरण संक्रमण का खतरा उतना कम
अब तक के अध्ययन व डाटा में यह बात की प्रामाणिकता हो चुकी है कि वैक्सीन ले चुके लोगों को कोरोनावायरस के बाद भी जान का खतरा नहीं रहता। अगर संक्रमण होता भी है तो उसका प्रभाव ज्यादा शरीर पर नहीं पड़ता है और, वैसे लोग जल्दी ठीक हो जा रहे हैं। ऐसे में लोगों को बिना किसी संशय और हिचक के टीका लेने के लिए केंद्रों पर जाना चाहिए। जिले में जितनी अधिक संख्या में लोग टीका लेंगे,कोरोना संक्रमण का खतरा उतना ही कम हो जाएगा और,संबंधित लोगों की जान का खतरा भी लगभग टल जाएगा।

निःशुल्क लग रहा टीका,गांव में भी पहुंच रही टीम
कोरोना संक्रमण को मात देने के लिए जिले के स्वास्थ्य केंद्रों पर निःशुल्क टिका लगाया जा रहा है जबकि कई प्रखंडों के गांव में भी मेडिकल टीम पहुंच रही है। यहां भी लोग पहुंचकर बेहिचक वैक्सिनेशन करा सकते हैं।

खबरें और भी हैं...