तैयारी:मैट्रिक की सेंटअप परीक्षा 12 से 20 नवंबर तक

भभुआएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सेंट अप परीक्षा में प्रश्न पत्रों की गोपनीयता रखने की पूरी जवाबदेही शिक्षण संस्थानों की होगी

मैट्रिक की सेंट अप परीक्षा जिले के 55 हाई स्कूलों में 13 नवंबर से शुरू होगी। बता दें कि मैट्रिक सेंट अप परीक्षा 12 से 20 नवंबर तक आयोजित की जाएगी। जबकि 12 नवंबर को राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण परीक्षा की वजह से 55 विद्यालयों में सेंट अप परीक्षा 13 नवंबर से होगी। इस बार कैमूर में मैट्रिक में 30,322 छात्रों का पंजीकरण बिहार विद्यालय परीक्षा समिति से हुआ है।सेंट अप परीक्षा पास होने पर ही छात्रों को वर्ष 2022 में होने वाली वार्षिक परीक्षा में शामिल होने का मौका मिलेगा। बता दें कि छात्र स्कूलों में सिलेबस पूरा हुए बिना ही सेंटअप परीक्षा में शामिल होंगे।

क्योंकि लॉक डाउन के बाद पंचायत चुनाव की वजह से स्कूलों में शिक्षण कार्य पूरी तरह ठप है। इसका खामियाजा 2022 में आयोजित होने वाले इंटर और मैट्रिक परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों पर पड़ेगा। बता दें कि मैट्रिक की सेंट अप परीक्षा 12 नवम्बर से शुरू होगी। चुनाव कार्य में शिक्षकों के व्यस्त होने की वजह से छात्रों के पढ़ाई और परीक्षा पर भी असर पड़ा है। इंटर और मैट्रिक के स्वतंत्र एवं नियमित पंजीकृत छात्रों का सेंटअप परीक्षा होम सेंटर पर ही आयोजित किया जाएगा। मैट्रिक और इंटर के परीक्षार्थियों की परीक्षा को लेकर शिक्षा विभाग ने भी तैयारियां शुरू कर दी है।बिहार बोर्ड से जारी गाइडलाइन के मुताबिक वैश्विक महामारी करोना को देखते हुए जरूरी एहतियात बरत कर स्कूलों में परीक्षाएं आयोजित की करने की तैयारी की जा रही है। सेंट अप परीक्षा को लेकर छात्र काफी प्रेशर में है।

मैट्रिक में छात्राओं की संख्या अधिक
बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा मैट्रिक के परीक्षा 2022 में आयोजित की जाएगी। कैमूर के 30,322छात्रों का रजिस्ट्रेशन हो चुका है। जिसमें 15,143 छात्र और 15,179 छात्राएं हैं। इस बार मैट्रिक की परीक्षा में छात्रों के मुकाबले छात्राओं की संख्या अधिक है।मैट्रिक के छात्र भी स्कूलों के अलावे ऑनलाइन पढ़ाई के मामले में काफी पीछे हैं। मैट्रिक के परीक्षार्थी भी परीक्षा को लेकर काफी प्रेशर में है। सेंट अप परीक्षा के बाद छात्रों को फाइनल परीक्षा की भी तैयारी करनी है। सेंट अप परीक्षा में शामिल होना अनिवार्य किया गया है।

मैट्रिक की सेंट अप परीक्षा में बिहार बोर्ड से पंजीकृत सभी छात्रों को शामिल होना अनिवार्य किया गया है।जबकि छात्रों को परीक्षा पास भी प्राप्त करनी पड़ेगी। अन्यथा वर्ष 2022 में होने वाली वार्षिक परीक्षा में छात्र शामिल नहीं हो पाएंगे।

खबरें और भी हैं...