पहल:मोहनिया अस्पताल के 55 बेड़ों पर पाइप लाइन से होगी ऑक्सीजन की आपूर्ति, तेजी से कार्य करते हुए 2 दिनों के अंदर किया गया तैयार

भभुआ6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पाइप लाइन से मरीज को दी जा रही ऑक्सीजन - Dainik Bhaskar
पाइप लाइन से मरीज को दी जा रही ऑक्सीजन

कोरोना महामारी जैसी आपदा को निपटने के लिए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग लगातार प्रयासरत है। ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी को देखते अनुमंडल अस्पताल के 55 बेडो पर अब मरीजों को पाइपलाइन द्वारा ऑक्सीजन उपलब्ध कराया जाएगा। इसी उद्देश्य से इमरजेंसी व अन्य वार्डाें में कुल 55 बेडो पर त्वरित गति से कार्य करते हुए 2 दिनों में इसे तैयार किया गया। कोविड-19 में मरीजों की बढ़ती संख्या एवं लगातार ऑक्सीजन सिलेंडर के कमी से जूझते हुए बेहतर व्यवस्था को लेकर अनुमंडल अस्पताल के 55 बेड़ों पर सेंट्रल पाइप लाइन व्यवस्था चालू की गई है। जिसमें मरीजो को पाइप लाइन के माध्यम से ऑक्सीजन गैस की सप्लाई की जाएगी।

बुधवार को अस्पताल उपाधीक्षक डॉ एके दास ने पाइप लाइन के द्वारा बेड़ों पर ऑक्सीजन सप्लाई को लेकर ट्रायल भी किया,इस दौरान ट्रायल पूरी तरह से सफल रहा। 6 माह पूर्व ही पाइप लाइन से मरीजों को ऑक्सीजन आपूर्ति करने के लिए पाइप लाइन की व्यवस्था तो कर दी गई थी मगर वह चालू की स्थिति में नहीं था।बुधवार को ट्रायल भी किया गया ट्रायल पूरी तरह सफल रहा। अब यहां 55 बेड़ों पर कोविड-19 के मरीजों का प्राथमिक उपचार होगा जिनकी ऑक्सीजन की आवश्यकता होगी उनको यहां ऑक्सीजन देकर रेफर कर दिया जाएगा। सिविल सर्जन से मोहनिया अनुमंडल अस्पताल को 25 ऑक्सीजन सिलेंडर व एक ऑपरेटर बहाल करने की मांग की गई है। संभवत एक-दो दिनों में पाइप लाइन से मरीजों को ऑक्सीजन की आपूर्ति शुरू हो जाएगी।

घबराहट की स्थिति पैदा होने से लोग बचें
अनुमंडल अस्पताल उपाधीक्षक डॉ एके दास ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि किसी भी प्रकार के अनावश्यक घबराहट की स्थिति पैदा होने से बचे। अस्पतालों में लगातार यह भी देखा जा रहा है कि मरीज के परिजन ऑक्सीजन की उपलब्धता को लेकर असमंजस में है। उन सभी लोगो से अपील किया है कि कृपया प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग को सहयोग करें एवं किसी प्रकार के असामान्य स्थिति उत्पन्न होने से बचे।साथ ही लोगों से यह भी अपील किया कि अपनी बारी आने पर कोरोना वैक्सीन अवश्य लें

खबरें और भी हैं...