पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जागरूकता:दत्तक संस्थान से अनाथ बच्चों को गोद लेने की प्रक्रिया के बारे में लोगों किया जाएगा जागरूक

भभुआ3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान का निरीक्षण करते न्यायिक पदाधिकारी - Dainik Bhaskar
विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान का निरीक्षण करते न्यायिक पदाधिकारी
  • जिला विधिक प्राधिकार के सचिव ने किया निरीक्षण,बच्चों के लिए सदर अस्पताल से नर्स की होगी प्रतिनियुक्ति

विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान से अनाथ बच्चों को गोद लेने की प्रक्रिया के बारे में जागरूक किया जाएगा।इस बारे में जिला विधिक प्राधिकार के सचिव ने आवश्यक दिशा निर्देश दिए हैं। मंगलवार को जिला बाल संरक्षण इकाई कैमूर से संचालित विशेष दत्तक ग्रहण संस्थान का निरीक्षण नालसा चाइल्ड फ्रेंडली लीगल सर्विसेज टू चिल्ड्रन एंड द प्रोटेक्शन स्कीम 2015 के आलोक में गठित कमेटी द्वारा किया गया। निरीक्षण के क्रम में पाया गया कि संस्थान में पूर्व में कुल छह बच्चे आवासीत थे। जिनमें तीन बच्चे और तीन बच्चियां थी।

वर्तमान में अब कुल बारह बच्चे आवासीत हैं। जिनमें 5 बच्चे एवं 7 बच्चियां हैं। चार बच्चियां प्रिया, लाडो जैस्मीन, ज्योति एवं एक बच्चा आदित्य सीडब्ल्यूसी सासाराम से प्राप्त हुए हैं। एक बच्चा विराट कैमूर जिले से प्राप्त हुआ है। समन्वयक द्वारा बताया गया कि कुल छह आया है। जिसमें तीन आया सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक तथा तीन आया शाम 6 बजे से सुबह 9 बजे तक बच्चों की देखभाल करती हैं। संस्थान में प्रतिनियुक्त चिकित्सक डॉ निशांत कुमार द्वारा चिकित्सा परामर्श रजिस्टर में बच्चों के इलाज हेतु खानपान एवं दवाइयों को समय समय पर देने का परामर्श दिया गया। इसके अलावा बच्चों की उचित देखभाल के लिए सचिव ने सदर अस्पताल से एक नर्स के प्रतिनियुक्ति की भी बात कही। इस दौरान विधि परीक्षा पदाधिकारी अमित कुमार मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...