जागरुकता:ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने को जमीन पर पेट के बल सोयें

भभुआ6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • ध्यान रखना होगा कि मरीज किस प्रकार अपने शरीर में ऑक्सीजन के स्तर को बढ़ा सकता है

ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने के लिए बेड या जमीन पर पेट के बल मरीज सोयें। हालांकि इस बीच ध्यान रखना होगा कि मरीज किस प्रकार अपने शरीर में ऑक्सीजन के स्तर को बढ़ा सकता है। दरअसल स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा होम आइसोलेशन या स्वास्थ्य केंद्रों में भरती मरीजों को ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने के लिए उन्हें बेड या जमीन पर पेट के बल सोने के लिए कहा जाता है। इसे प्रोन पॉजिशिनिंग कहा जाता है। पेट के बल मरीजों को लेटा कर उनके ऑक्सीजन लेवल में तेजी से सुधार आता है। इस पॉजिशन में मरीज का पेट बिस्तर पर और पीठ ऊपर रहना चाहिए।

ऐसे सोने से फेफड़े अधिक तेजी से काम करते हैं। अधिक से अधिक समय तक इस पॉजिशन में लेटे रहें। प्रभारी सिविल सर्जन सह अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. मीना कुमारी का कहना है कि कोरोना की दूसरी लहर के कारण संक्रमितों की संख्या में इजाफा होने के साथ मौत दर भी बढ़ी है। दूसरी लहर में कई नये लक्षण उभर कर सामने आये हैं। चूंकि कोविड संक्रमण फेफड़ों व श्वसन प्रक्रिया को प्रभावित करने वाला रोग है। इसलिए शरीर को अधिक से अधिक ऑक्सीजन की जरूरत होती है।

खबरें और भी हैं...