पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सतर्क रहें:अपनों के लिए कीमती हैं आपकी जिंदगियां, सेफ्टी रूल्स जरूर मानें

भभुआ3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सड़क हादसों में मौतों का ग्राफ डरावना, वाहन चलाते वक्त न करें जरा सी भी लापरवाही, सकुशल पहुंचें घर

सड़क हादसों में अमूमन रोज होने वाले मौतों का ग्राफ डराता है। ग्राफ बता रहे हैं कि आप सकुशल घर पहुंचे, इसलिए रोड सेफ्टी रूल्स का पालन जरूरी है। दरअसल सड़क सुरक्षा के प्रति अनदेखी व लापरवाही बरतने से अमूमन रोज जिले में लोग हादसों में जान गवां बैठते हैं।

साल, 2021, में महज जनवरी माह के आंकड़ों पर गौर करें तो साल के पहले दिन ट्रैक्टर-कार की भिड़ंत में कार सवार 5 लोगों की जान चली गई थी, जबकि यूपी के चंदौली में कैमूर के करमचट थाना क्षेत्र के एक सामाजिक कार्यकर्ता की बोलेरो-ट्रक की जोरदार भिड़ंत में मौत हो गई। इस तरह से जिले में सड़क दुर्घटनाओं में लोगों की जान गवां बैठने और घायल होने की लिस्ट लंबी है बावजूद लोग सड़क सुरक्षा के प्रति सचेत नहीं हो रहे हैं।

लिहाजा जिले में सड़क की घटनाएं रोज सामने आ रही हैं। इधर, पुलिस और परिवहन विभाग का मानना है कि जिले में 80%, से अधिक हादसों में मौतें व लोगों के घायल होने की घटनाएं ओवर टेकिंग, रॉन्ग साइड ड्राइविंग और बिना हेलमेट बाइक ड्राइव की वजह से होती है। इसलिए दैनिक भास्कर समाचार पत्र के जरिये भास्कर;”अपनों के लिए कीमती हैं आपकी जिंदगियां, स्लोगन से आमजन को सचेत करने की दिशा में पहल कर रहा है।
है गुजारिश : सड़क सुरक्षा नियमों का करें पालन
जिले में अमूमन रोज हो रहे सड़क हादसों हादसों में कमी लाने के मद्देनजर जिलेवासियों से गुजारिश है कि आप अगर जिले से जुड़े राष्ट्रीय राजमार्ग 2 राष्ट्रीय राजमार्ग 30 के अलावे विभिन्न लिंक पथों के रास्ते वाहन ड्राइव कर रहे हो तो सड़क सुरक्षा नियमों का पालन करें, क्योंकि आपकी छोटी सी लापरवाही और अनदेखी आपके हंसते-खेलते परिवार को सदमे के सागर में डुबो सकती है।

जिंदगियां बचाने के लिए प्रशासन चला रहा जागरुकता अभियान
17 फरवरी तक सड़क सुरक्षा माह चलाया जा रहा है। पुलिस और प्रशासन की ओर से जिला मुख्यालय भभुआ, मोहनिया के साथ गांवों में भी जागरुकता वैन के जरिए लोगों से सड़क सुरक्षा के बनाए गए सभी नियम मानने की अपील कर रहे हैं।

जिले में पुलिस प्रशासन और परिवहन विभाग की तरफ से सड़क सुरक्षा माह मनाया जा रहा है। को जागरूक किया जा रहा है। ओवरलोडिंग और ओवरटेक नहीं करने की अपील की जा रही है। हेलमेट और सीट बेल्ट लगाने का अनुरोध किया जा रहा है। -रामबाबू, जिला परिवहन पदाधिकारी, कैमूर

ये वजह बनते हैं हादसों के कारण, इसलिए सजग ड्राइविंग जरूरी

  • ड्राइविंग के वक्त न करें मोबाइल का उपयोग: चार पहिया व दोपहिया वाहन ड्राइविंग के वक्त लोग मोबाइल का उपयोग करते हैं। ड्राइविंग के दौरान ऐसा न करें। वाहन चलाते वक्त बात करने से चालक का ध्यान भटकता है।
  • वाहनों की रफ्तार का अवश्य रखें ध्यान: वाहन चलाते वक्त रफ्तार का ध्यान रखें। तेज रफ्तार छोटे-बड़े हादसे का वजह है। प्रायः देखा जाता है कि चार पहिया में दोपहिया वाहन तेज रफ्तार चलता है। अचानक ब्रेक लगाने से हादसे होते हैं।
  • नशा कर ड्राइविंग करना भी घातक: जिले में लिंक पथों और राष्ट्रीय राजमार्ग दो पर होने वाले हादसों की वजह नशा कर ड्राइविंग करना है। शराबबंदी में भी कई सड़क हादसों का कारण नशे की हालत में ड्राइविंग करना सामने आता है।
  • ओवरटेकिंग और अनट्रेंड लोगों की ड्राइविंग भी वजह: ओवरटेकिंग और अनट्रेंड लोगों की ड्राइविंग भी बड़ा कारण है। सड़कों पर अक्सर नाबालिग तेज रफ्तार बाइक व स्कूटी हांकते हैं। कई बार संतुलन बिगड़ने के कारण हादसा हो जाता है।
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों में आपकी व्यस्तता बनी रहेगी। किसी प्रिय व्यक्ति की मदद से आपका कोई रुका हुआ काम भी बन सकता है। बच्चों की शिक्षा व कैरियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी संपन...

    और पढ़ें