पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Bhojpur
  • The Body Was Found From The Bathroom Of The Woman's Residence, The Relatives Of The Deceased Accused The Police Of Beating Her To Death

भोजपुर पुलिस की कस्टडी में महिला की मौत:हत्या के मामले में 4 दिनों से पूछताछ कर रही थी पुलिस, बाथरूम में लटका मिला शव, परिवार ने मारपीट से मौत का लगाया आरोप

भोजपुर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
महिला की मौत के बाद परिवार के लोगों में गुस्सा है। पुलिस अफसरों ने जांच का भरोसा दिया है। - Dainik Bhaskar
महिला की मौत के बाद परिवार के लोगों में गुस्सा है। पुलिस अफसरों ने जांच का भरोसा दिया है।

भोजपुर में पुलिस कस्टडी में एक महिला की संदिग्ध हालत में मौत हो गई। मामला पीरो थाना परिसर की दूसरी मंजिल पर बने महिला आवास का है। जिसके बाथरूम में एक महिला की लाश मिली है।घटना के बाद थाने के बाहर भारी संख्या में लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई। जिसके बाद मजिस्ट्रेट की निगरानी में बोर्ड गठित कर पुलिस ने शव का पोस्टमॉर्टम सदर अस्पताल में करवाया। जिसकी रिपोर्ट आने का इंतजार है।

हत्या के शक में पूछताछ के लिए लाई थी पुलिस
मोथी गांव की रहने वाली 50 साल की शोभा देवी को पुलिस हत्या के मामले में पूछताछ के लिए लाई थी। मोथी गांव के ही सह ग्रामीण चिकित्सक मंतोष कुमार 29 अगस्त से लापता थे। उनका शव एक सितंबर की शाम शोभा देवी के घर के पास बंद घर से बरामद हुआ था। जिसके बाद मंतोष के भाई शेखर सुमन ने एक नामजद और एक अज्ञात लोगों के खिलाफ थाने में शिकायत दी थी। शक के आधार पर पुलिस शोभा देवी और उसके बेटे प्रकाश कुमार को 8 तारीख को तीज के दिन रात में पूछताछ के लिए थाने ले आई थी।जिसके बाद आज सुबह थाने की दूसरी मंजिल पर महिला आवास के बाथरूम में उसका शव मिला है। महिला के भाई मुन्ना प्रसाद ने पुलिस कस्टडी में मारपीट से मौत का आरोप लगाया है।

पुलिस की मारपीट से हुई मौत: परिजन
महिला के भाई ने बताया कि मंतोष कुमार की हत्या हुई थी। उसका शव गांव के ही बंद पड़े घर से एक सितंबर की शाम बरामद किया गया था। उसी मामले में पुलिस चार दिन पहले उसकी बहन और भांजे प्रकाश को गिरफ्तार कर थाने ले गई। जब परिजनों से मिलने गए तो पुलिस ने परिजनों को मिलने नहीं दिया गया। उनका कहना है कि उनके भांजे ने उन्होंने बताया है कि पुलिस ने उसकी मां के साथ बहुत मारपीट की है। सुबह-सुबह पुलिस ने सूचना दी की उनकी बहन की मौत हो गई है।

पुलिस ने बताया सुसाइड का मामला
शोभा देवी से 4 दिनों से महिला सिपाही की निगरानी में पूछताछ की जा रही थी। पुलिस मारपीट करने की बात से साफ इनकार कर रही है। पीरो DSP इसे सुसाइड का मामला बता रहे हैं। उन्होंने बताया कि आज सुबह वह शौच के लिए बाथरूम गई थी। जहां उसने अपने गले में गमछा बांधकर खुदकुशी कर ली।

जांच के साथ कड़ी कार्रवाई की मांग
घटना की सूचना मिलने पर शिवसेना के अध्यक्ष विक्रमा सिंह, शंभू सिंह, विकी कुमार आजाद सहित कई कार्यकर्ता सदर अस्पताल तपहुंचे। घटना की कड़ी निंदा करते हुए पीरो थानाध्यक्ष को तुरंत सस्पेंड करने मांग की। इसके बाद उन्होंने पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। साथ ही उन्होंने इस मामले की जांच के साथ दोषी पाए जाने वाले पुलिसकर्मियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

खबरें और भी हैं...