सोन नदी में डूबे युवक का शव बरामद:रविवार रात बालू लदी नाव की दूसरी नाव से हो गई थी टक्कर, दो दिन बाद उपलाता दिखा शव

भोजपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शव बरामद होने के बाद आरा सदर अस्पताल पहुंचे परिजन। - Dainik Bhaskar
शव बरामद होने के बाद आरा सदर अस्पताल पहुंचे परिजन।

भोजपुर जिले में सोन नदी में डूबे अधेड़ मजदूर का शव तीसरे दिन बरामद हुआ। उसका शव कोईलवर थाना क्षेत्र के सुरौंधा गांव स्थित सोन नदी से मंगलवार की दोपहर बरामद हुआ। शव के मिलने से आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई। वहीं, घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय थाना घटनास्थल पर पहुंची और शव को अपने कब्जे में लेकर उसका पोस्टमार्टम आरा सदर अस्पताल में करवाया।

जानकारी के अनुसार, मृतक बड़हरा थाना क्षेत्र के धुसरिया गांव निवासी स्व.रामायण के 52 वर्षीय पुत्र चनेश्वर महतो हैं। वह पेशे से मजदूर थे एवं सोन नदी में चलने वाले बालू के नाव पर मजदूरी करते थे। इधर, मृतक के बेटे माली महतो ने बताया कि रविवार की सुबह करीब 7 बजे घर से बालू वाले नाव पर मजदूरी करने के लिए निकले थे। इसी बीच रविवार की देर रात करीब 10 बजे ही बालू लदी उनकी नाव एवं बालू लदी दूसरी अन्य नाव आपस में टकरा गई थी। जिसके कारण वह नाव से सोन नदी में गिरकर डूब गए थे। जिससे उनकी मौत हो गई।

सोमवार की सुबह जब वह घर नहीं लौटे तो परिजनों ने काफी खोजबीन की। लेकिन, कुछ पता नहीं चल पाया। सोमवार की शाम स्थानीय लोगों ने उनके सोन नदी में डूबने की सूचना मृतक के परिजनों को दी। सूचना पाकर मृतक के परिजन सोन नदी में शव की काफी तलाश की। लेकिन, सोमवार को शव नहीं मिल पाया। मंगलवार की दोपहर उनका शव कोईलवर थाना क्षेत्र के सुरौंधा गांव स्थित सोन नदी के किनारे उनका पड़ा दिखा। इसके बाद ग्रामीणों के सहयोग से उनके शव को सोन नदी से बाहर निकाला गया। जिसके बाद परिजनों ने इसकी सूचना स्थानीय थाना को दी। घटना के बाद मृतक के घर में कोहराम मच गया है।

खबरें और भी हैं...